Connect with us

नेशनल

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी ये अच्छी खबर

Published

on

नई दिल्ली। कोरोना वायरस चीन के वुहान शहर से निकल पूरी दुनिया में फैल चुका है। भारत में भी यह वायरस बड़ी संख्या में लोगों को अपना शिकार बना चुका है।

हाल ही में इस वायरस ने देश में अपनी रफ्तार तेज कर दी है। इस जानलेवा बीमारी से सबसे ज्याद प्रभावित महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, बंगाल और दिल्ली हैं। इन राज्यों में कोरोना की वजह से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं।

शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोरोना वायरस से 80 फीसदी मौतें पांच राज्यों यानी महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, बंगाल और दिल्ली में हुई हैं, जबकि 60 फीसदी मौतें सिर्फ पांच शहरों यानी मुंबई, दिल्ली, चेन्नई, अहमदाबाद और ठाणे में दर्ज की गई हैं।

इसी तरह 70 फीसदी मौतें सिर्फ 10 शहरों यानी मुंबई, अहमदाबाद, पुणे, दिल्ली, कोलकाता, इंदौर, ठाणे, जयपुर, चेन्नई और सूरत में हुई हैं।स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह भी बताया कि कोरोना वायरस के 80 फीसदी मामले पांच राज्यों में सामने आए हैं, जिनमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, दिल्ली और मध्य प्रदेश शामिल हैं, जबकि 90 फीसदी मामले 10 राज्यों में देखने को मिले हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक कोरोना वायरस के 60 फीसदी मामले सिर्फ पांच शहरों यानी मुंबई, दिल्ली, चेन्नई, अहमदाबाद और ठाणे में सामने आए हैं, जबकि 70 फीसदी कोरोना मरीज 10 शहरों में पाए गए हैं। भारत में कोरोना वायरस के मरीज तेजी से रिकवर भी हो रहे हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि अब देश में कोरोना वायरस के मरीजों की रिकवरी की दर 41 फीसदी है। पिछले 24 घंटे में 3334 कोरोना मरीज रिकवर हुए हैं। इस तरह अब तक 48 हजार 534 लोग रिकवर हो चुके हैं।

उन्होंने एक अच्छी खबर देते हुए बताया कि देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या सिर्फ 3.02 फीसदी है। 19 मई को कोरोना से मरने वालों की दर 3.13 फीसदी थी, जिसमें अब 0.32 फीसदी की कमी आई है। वहीं, अब तक देश में एक लाख 18 हजार 446 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं, जिनमें से 3 हजार 583 लोग दम तोड़ चुके हैं।

 

 

नेशनल

दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर इतनी थी तीव्रता

Published

on

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर में शुक्रवार रात करीब 9 बजकर 8 मिनट पर भूंकप के झटके महसूस किए गए। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.6 मापी गई है।

दिल्ली-एनसीआर समेत हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। वहीं हरियाणा के रोहतक में भूकंप का केंद्र बताया जा रहा है।

बता दें कि इससे पहले 15 मई को दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इस भूकंप का केंद्र दिल्ली के पीतमपुरा इलाके में था। इस भूकंप की तीव्रता 2.2 थी।

15 से पहले 10 मई को 3.4 तीव्रता वाली भूकंप आया था। वहीं 13 अप्रैल को 3.5 की तीव्रता वाला भूकंप आया था। जबकि 14 अप्रैल को आए भूकंप की तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 2.7 मापी गई थी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending