Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

कोरोनाः बहुत चालाक निकला वायरस, महिला के इस अंग में 3 हफ्तों तक था छुपा!

Published

on

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ने चीन से निकलकर पूरी दुनिया में तबाही मचा दी है। इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 2 लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। वहीं कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 28 लाख के पार पहुंच चुकी है।

फिलहाल कोरोना की कोई दवा इजाद नहीं की जा सकी है। यही कारण है कि अब लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग और सर्तकता बरतने के लिए कहा जा रहा है। इस बीच कोरोना को लेकर हो रहे शोध में एक हैरान कर देने वाली बात सामने आई है।

ताजा शोध के मुताबिक संक्रमण और पहली बार लक्षण दिखने के 21 दिन बाद तक कोरोना वायरस आंखों में छुपा रह सकता है। इटली के नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर इन्फेक्शियस डिसीज के वैज्ञानिकों का कहना है कि आंखों का लाल होना भी कोरोना का लक्षण हो सकता है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक, चीन के वुहान से लौटने के पांच दिन बाद इटली की एक 65 वर्षीय महिला  में दिखे लक्षणों से सब हैरान रह गए। एक दिन में ही उसकी हालत इतनी खराब हो गई कि अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। वैज्ञानिकों ने पाया कि संक्रमण की वजह से महिला की आंखें लाल थीं। कुछ दिन बाद बुखार हुआ और आंखें और अधिक लाल हो गईं।

डॉक्टरों ने इस केस को गंभीरता से लिया और आंखों से फ्ल्यूड निकालकर उसकी रोज जांच करते रहे। इस दौरान पता चला कि वायरस महिला की आंखों में छिपा था।

डॉक्टरों के अनुसार वायरस महिला की आंखों में 21 दिन तक रहा। खास बात ये रही कि नाक के स्वैब में वायरस नहीं था लेकिन आंखों के फ्ल्यूड में पांच दिन बाद भी वायरस मिला था।

शोधकर्ता ने आंखों के डॉक्टरों को सावधानी बरतने की अफील की है क्योंकि आंखों की सतह वायरस का घर होने के साथ फैलाव का कारण बन सकती है।

अन्तर्राष्ट्रीय

पाकिस्तान में भयानक ट्रेन हादसा : 29 लोगों की मौत, ज्यादातर सिख श्रद्धालु

Published

on

By

कराची से लाहौर जा रही थी गाड़ी

पाकिस्तान में शुक्रवार को बस और ट्रेन के बीच टक्कर में 29 लोगों की मौत की सूचना है, इस बस में ज्यादातर सिख श्रद्धालु हैं।ये हादसा लाहौर से 60 किलोमीटर की दूरी पर फारूकाबाद में एक रेलवे क्रॉसिंग पर हुआ। जहां से गुजर रही मिनी बस की टक्कर सामने से आ रही शाह हुसैन एक्सप्रेस से हो गई।

ये ट्रेन Pakistan के  कराची से लाहौर जा रही थी और ये हादसा तकरीबन दोपहर डेढ़ बजे हुआ। इस भयानक टक्कर में 29 लोगों की मौत हो गई है। जिनमें से ज्यादातर पाकिस्तानी सिख हैं।

लखनऊ स्थित विकास दुबे के घर पर पुलिस ने की छापेमारी

हादसे के बाद मौके पर प्रशासन और राहत एवं बचावकर्मियों ने पहुंचकर घायलों को अस्पताल पहुंचाया। Pakistan के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी हादसे पर दुख व्यक्त किया है। साथ ही पीएम मोदी ने भी इस घटना को लेकर शोक व्यक्त किया है।

#pakistan #Sikhpilgrims #trainaccident #imrankhan #narendramodi #Train

Continue Reading

Trending