Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

कोरोनाः जासूसों के हाथ लगी खुफिया रिपोर्ट, चीन के इस लैब से निकला है वायरस!

Published

on

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में हर दिन से साथ बढ़ता जा रहा है। अब तक इस लाइलाज वायरस से 64 हजार लोगों की मौत हो चुकी है वहीं 12 लाख से ज्यादा लोगों इससे संक्रमित हैं।

कोरोना वायरस जिसे हम कोविड 19 के नाम से भी जानते हैं कैसे पैदा हुआ इस रहस्य से पर्दा अभी भी नहीं उठ सका है। इस बीच इस बीच ब्रिटेन सरकार को खुफिया सूत्रों के हाथ बड़ी जानकारी लगी है।

ब्रिटेन के खुफिया सूत्रों के मुताबिक कोरोना वायरस का संक्रमण पहले चीन के लैब से जानवरों में हुआ और उसके बाद वह इंसानों में फैला। अब ये वायरस घातक रूप ले चुका है।

रिपोर्ट के मुताबिक, चीन की वुहान लैब में इबोला, निपाह, सॉर्स और दूसरे घातक वायरसों पर रिसर्च कर रहे वैज्ञानिक अपने माइक्रोस्कोप में एक अजीब सा वायरस नोटिस कर रहे थे। मेडिकल हिस्ट्री में ऐसा वायरस पहले कभी नहीं देखा गया था।

इसके जेनेटिक सीक्वेंस को गौर से देखने पर पता चल रहा था कि ये चमगादड़ में पाए जाने वाले वायरस के करीबी हो सकते हैं। वैज्ञानिक हैरान थे क्योंकि इस वायरस में वो सार्स वायरस के साथ समानता को देख पा रहे थे, जिसने 2002-2003 में चीन में महामारी ला दी थी और दुनिया भर में 700 से ज़्यादा लोग मारे गए थे। उस वक्त भी ये बताया गया था कि सार्स छूने और संक्रमित व्यक्ति के छींकने या खांसने से फैलता है, लेकिन तब चीन इस वायरस को छुपा ले गया था।

डेली मेल की खबर के मुताबिक, भले ही अब तक वैज्ञानिकों का यही मानना रहा है कि कोरोना वायरस चीन के वुहान के पशु बाजार से इंसानों में फैला, लेकिन चीनी लैब से हुई लीक की बात को भी एकदम से नकारा नहीं जा सकता।

रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन की बनाई गई इमरजेंसी कमिटी कोबरा के एक सदस्य ने कहा कि पिछली रात खुफिया सूचना मिली, जिसके मुताबिक इस बात को लेकर कोई संदेह नहीं है कि वायरस जानवरों से ही फैला है। हालांकि, ये भी साफ होता जा रहा है कि वुहान के लैब से होकर ही ये वायरस इंसानों में फैलना शुरू हुआ था।

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक वुहान स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में कई तरह की वायरस से संबंधित टेस्टिंग की जाती है। यह चीन का सबसे एडवांस लैब है। यह इंस्टिट्यूट जानवरों के बाजार से महज 10 मील दूर बना है।

इसके अलावा वुहान सेटंर फॉर डिजिज कंट्रोल भी वुहान के पशु बाजार से करीब तीन मील दूर है। रिपोर्ट में ये कहा गया है कि इंस्टिट्यूट के कर्मचारियों के खून में सबसे पहले कोरोना का इन्फेक्शन हुआ और फिर इसने स्थानीय आबादी को संक्रमित किया है।

अन्तर्राष्ट्रीय

दक्षिण कोरिया में बढ़ने लगे कोरोना के मामले, लगातार तीसरे दिन आए इतने नए केस

Published

on

नई दिल्ली। दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के 25 नए मामले सामने आए हैं। नए मरीजों के मिलने के बाद यहां कुल संक्रमित लोगों की संख्या 11 हजार 190 हो गई है। दर्ज किए गए, जिसके बाद से महामारी से संक्रमित हुए लोगों का कुल आंकड़ा बढ़कर 11 हजार 190 हो गया है।

एक न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण कोरिया में लगातार तीसरे दिन 20 से ऊपर नए मामले सामने आए हैं। इसमें 8 मरीज विदेश से वापस लौटे हैं। वहीं इस बीमारी से मरने वालों की कुल संख्या 266 है, जिसमें कोई नई मृत्यु की पुष्टि नहीं की गई। बता दें कि दक्षिण कोरिया में कुल मृत्यु दर 2.38 प्रतिशत दर्ज की गई है।

उपचार के बाद पूर्ण रूप से स्वस्थ हुए 19 अन्य लोगों को क्वारंटाइन से डिस्चार्ज कर दिया गया, जिसके बाद से यह आंकड़ा बढ़कर 10 हजार 213 हो गया। कुल रिकवरी रेट 91.3 प्रतिशत है।

देश में महामारी के संक्रमण को लेकर 3 जनवरी के बाद से 8 लाख 20 हजार से अधिक लोगों की जांच की जा चुकी है। 7 लाख 88 हजार 766 लोग टेस्ट में नेगेटिव पाए गए हैं, जबकि 20 हजार 333 नमूनों की जांच की जा रही है।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending