Connect with us

नेशनल

कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने दी बड़ी खुशखबरी, जानकर राहत महसूस करेंगे आप

Published

on

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या हर दिन तेजी से बढ़ रही है। भारत में अबतक 2500 से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं जबकि 70 लोग इसकी चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं।

इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कोरोना संकट को लेकर राहत भरी खबर दी है। डॉ हर्षवर्धन के मुताबिक भारत में अभी यूरोप जैसे हालात नहीं हैं।

डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि भारत की हालत यूरोप के देशों की तुलना में बेहतर है। पिछले कुछ दिनों में संक्रमितों की संख्या में अचानक आई तेजी सिर्फ एक घटना की वजह है। हमारे प्रयासों की वजह से बड़े और अन्य पश्चिमी देशों की तुलना में हमारी स्थिति बहुत बेहतर है।

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि भारत में जनवरी के तीसरे सप्ताह में पहला मामला आया था. तब से अन्य यूरोपीय देशों की तुलना में संख्याएं अपेक्षाकृत संतुलित हैं। किसी भी घटना से निपटने के लिए 40,000 वेंटिलेटर अलग-अलग अस्पतालों में हैं। साथ ही वेंटिलेटर की संख्या बढ़ाई जा रही है।

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने दावा किया कि वेंटिलेटर की तरह मास्क और पीपीई की उपलब्धता पर्याप्त संख्या में है और इनका ऑर्डर दे दिया गया है। यदि स्थिति उत्पन्न होती है, तो इन वस्तुओं की कमी नहीं होने दी जाएगी। भारत में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या 2500 को पार कर गई है।

 

नेशनल

दो महीने बाद नए नियमों के साथ देश में हवाई सेवा अब फिर से शुरू

Published

on

By

लॉकडाउन की वजह से देश में रुकी हुई हवाई सेवा अब फिर से चालू हो गई है। दो महीने बाद 25 मई से घरेलू हवाई सेवा शुरू कर दी गई हैं।

25 मई से आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल को छोड़कर पूरे देश में घरेलू विमान सेवा की शुरुआत हो गई है। दिल्ली से सुबह 4:45 पर पुणे के लिए पहली फ्लाइट रवाना भी हो चुकी है।मुंबई एयरपोर्ट से सुबह 6:45 पर पहली फ्लाइट पटना के लिए रवाना हुई।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का हुआ निधन, लंबे समय से दिल्ली के अस्पताल में चल रहा था इलाज

 

ये हवाई सेवाएं करीब दो महीने शुरू हो रही हैं, इसको देखते हुए एयरपोर्ट पर भी खास तैयारियां की गई हैं। एयरपोर्ट पर अब नए नियमों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के नियम लागू किए गए हैं।

एयरपोर्ट पर दो मीटर की दूरी का पालन किया जाना अब ज़रूरी है। इसके अलावा हवाई यात्रा के संबंध में राज्य सरकारों ने अलग-अलग गाइडलाइंस जारी की हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending