Connect with us

प्रादेशिक

शंख की आवाज़ से खत्म हो जाते हैं वायरस – कोरोना पर ये दिग्गज बीजेपी नेता बोली

Published

on

महाराष्ट्र भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता शाइना एनसी का कोरोना को लेकर एक बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने ये कहा है कि जनता कर्फ्यू के दौरान ताली-थाली बजाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कदम की वाहवाही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पुराणों के हिसाब से घंटी और शंख की आवाज से बैक्टीरिया, वायरस मर जाते हैं।

शाइना एनसी ने अपने ट्वीट में लिखा कि हमारे नेता नरेंद्र मोदी बिल्कुल अलग हैं, वह प्रशंसा के हकदार हैं। पुराणों के हिसाब से घंटी और शंख की आवाज़ से बैक्टीरिया, वायरस आदि मर जाते हैं। इसलिए पूजा के समय हमलोग घंटी और शंख बजाते हैं। 120 करोड़ लोगों के घंटी, शंख, ताली, बर्तन बजाने के पीछे कितनी बड़ी सोच है मोदी जी की।

कोरोना पोज़िटिव मिलने के बाद कनिका कपूर पर भड़के लोग, कहा – शर्म आनी चाहिए

हालांकि ट्विटर पर शाइना एनसी के बयान का मजाक भी खूब उड़ रहा है। पीएम मोदी ने जनता कर्फ्यू पर कहा था, रविवार 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक देशवासी जनता कर्फ्यू का पालन करें। जनता कर्फ्यू का मतलब है जनता के लिए, जनता द्वारा खुद पर लगाया गया कर्फ्यू। 22 मार्च को हमारा ये प्रयास, हमारे आत्म-संयम, देशहित में कर्तव्य पालन के संकल्प का एक प्रतीक होगा। 22 मार्च को जनता-कर्फ्यू की सफलता, इसके अनुभव, हमें आने वाली चुनौतियों के लिए भी तैयार करेंगे।

प्रादेशिक

सीएम योगी बोले, कोरोना की रोकथाम के लिए लखनऊ, कानपुर व मेरठ के लिए विशेष रणनीति बनाएं अधिकारी

Published

on

लखनऊ। यूपी में कोरोना के मामलों को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक करते हुए अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने लखनऊ , कानपुर नगर और मेरठ में कोविड-19 के सम्बन्ध में विशेष रणनीति बनाकर कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि टेस्टिंग और सर्विलांस जितना सुदृढ़ होगा, कोरोना के प्रसार को रोकने में उतनी ही अधिक सफलता मिलेगी। योगी ने मुख्य सचिव को निर्देश दिए कि माइक्रो कन्टेनमेन्ट जोन, टेस्टिंग और सर्विलांस के सम्बन्ध में निरन्तर फीडबैक लेते हुए उचित कार्रवाई करें। कोविड की रोकथाम के लिए लखनऊ , कानपुर नगर व मेरठ के लिए विशेष रणनीति बनाई जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर को नियंत्रित करने में सफलता मिली है। पिछले एक सप्ताह में सक्रिय कोरोना के मामलों की संख्या में काफी कमी आई है, यह एक अच्छा संकेत है और ये दर्शाता है कि राज्य सरकार की कोविड-19 के प्रति अपनाई गई रणनीति कारगर रही है। कोविड-19 नियंत्रण सम्बन्धी कार्य सक्रियता के साथ निरन्तर जारी रखें जाएं। उन्होंने फोकस्ड टेस्टिंग किए जाने पर बल देते हुए कहा कि कोविड बेड्स की संख्या में बढ़ोतरी सुनिश्चित की जाए।

Continue Reading

Trending