Connect with us

प्रादेशिक

भूख हड़ताल पर बैठे दिग्विजय सिंह, कही ये बात

Published

on

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बेंगलुरु में पुलिस द्वारा एहतियातन हिरासत में लेने के बाद भूख हड़ताल का ऐलान कर दिया है। दिग्विजय ने यहां एक रिसॉर्ट में ठहरे कांग्रेस के बागी विधायकों से मिलने की कोशिश की लेकिन उन्हें मिलने नहीं दिया गया था।

सिंह ने एक ट्वीट में कहा, “हमें बेंगलुरु पुलिस द्वारा स्थानीय डीसीपी कार्यालय ले जाया गया है। मैं मांग करता हूं कि हमें अपने विधायकों से जरूर मिलने दिया जाए, जो भाजपा की कैद में हैं। मैं अपनी भूख हड़ताल की घोषणा करता हूं, जब तक कि हमें हमारे विधायकों से मिलने नहीं दिया जाता। हम लोकतंत्र में रहते हैं, न कि तानाशाही में।”

इससे पहले सिंह को बुधवार को यहां एहतियातन हिरासत में ले लिया गया था, जब उन्होंने एक रिसॉर्ट में प्रवेश करने की कोशिश की, जहां सत्तारूढ़ दल के 22 बागी विधायक ठहरे थे।

एक पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “सिंह को येलहंका में रामाडा रिसॉर्ट के पास एहतियातन हिरासत में लिया गया था जब वह बागी विधायकों से मिलने के लिए प्रवेश से इनकार करने के बाद विरोध प्रदर्शन करने की कोशिश कर रहे थे।”

सिंह के अलावा, मध्य प्रदेश के 9 मंत्रियों और 2 पार्टी विधायकों को कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डी.के. शिवकुमार के साथ शहर के उत्तरी उपनगर में अमृतहल्ली पुलिस स्टेशन में हिरासत में लिया गया है। शहर के उत्तरी उपनगर के रिसॉर्ट में और उसके आसपास भारी सुरक्षा तैनात की गई है।

दिग्विजय सिंह ने पत्रकारों से कहा, “मैं राज्यसभा उम्मीदवार हूं मुझे विधायकों से मिलने की अनुमति नहीं है।” इससे पहले, कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख डी.के. शिवकुमार ने एयरपोर्ट पर दिग्विजय सिंह की एयरपोर्ट पर अगवानी की। शिवकुमार ने कहा कि कांग्रेस पार्टी एकजुट है और हमारी अपनी राजनीतिक रणनीति है।

प्रादेशिक

कैदी निकला कोरोना पॉजिटिव, महिला जज समेत 11 लोग हुए क्वारंटीन

Published

on

नई दिल्ली। हरियाणा के फतेहाबाद जिले के टोहाना इलाके के एक शख्स की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद महिला महिला जज समेत 11 लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है।

दरअसल, यह शख्स छेड़छाड़ का आरोपी था और हिसार के केंद्रीय कारागार में बंद किया गया था। उसको पेशी के लिए कोर्ट में पेश किया गया था। बता दें कि हिसार में कोरोना वायरस के 8 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक मामला केंद्रीय कारागार, एक कुम्भा, एक मामला ढाणा खुर्द और पांच मामले आदमपुर क्षेत्र में सामने आए हैं।

इसके साथ ही हिसार जिले में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 37 हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग रोजाना हिसार जिले में 250 लोगों की स्क्रीनिंग कर रही है।

इन कोरोना पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों को भी चिंहित किया जा रहा है। पिछले तीन दिनों से लगातार हिसार जिले में कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है, जिससे जिला प्रशासन की मुश्किल बढ़ गई है।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending