Connect with us

प्रादेशिक

6 साल में कुपोषण से एक परिवार के चार लोगों की मौत, NHRC ने योगी सरकार से मांगा जवाब

Published

on

लखनऊ। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने राज्य में कथित तौर पर कुपोषण से हुई मौतों को लेकर योगी सरकार को नोटिस जारी किया है।

एक रपट के अनुसार, बस्ती के एक गांव में रहने वाले एक परिवार के चार सदस्यों की पिछले छह वर्षो में कथित तौर पर कुपोषण के कारण मौत हुई है। एनएचआरसी ने रपट पर स्वत: संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव से चार हफ्तों में इस बाबत जवाब दाखिल करने को कहा है।

आयोग ने साथ ही बस्ती में सामाजिक कल्याण योजनाओं के कार्यान्वयन पर भी एक रपट मांगी है। इसमें उस परिवार के बारे में विवरण दिया गया है, जहां कथित कुपोषण से मौतें हुई हैं।

बस्ती के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर जे.पी. त्रिपाठी ने कहा, “कुपोषण के कारण आठ महीने पहले हरीश चंद्र पांडे की पत्नी की कथित तौर पर मौत हो गई थी।

ग्रामीणों ने हमें बताया कि हाल के वर्षों में हरीश चंद्र की तीन बेटियों की भी कुपोषण के चलते मौते हुई हैं।” हरीश चंद्र बस्ती के ओझागंज गांव के कप्तानगंज ब्लॉक के मूल निवासी हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा, “हरीश चंद्र की चार साल की बेटी वंध्यवासिनी गंभीर रूप से बीमार हैं और उसका इलाज चल रहा है। वह एक न्यूरोलॉजिकल विकार से पीड़ित है। हालांकि, अब तक कुपोषण का कोई संकेत नहीं है। बेटी के अलावा हरीश परिवार के एक मात्र जीवित सदस्य हैं।” उन्होंने कहा की बच्ची के टेस्ट कराए गए हैं और उसकी रिपोर्ट्स का इंतजार है।

 

आध्यात्म

सीएम योगी – कोरोना वायरस के खिलाफ धार्मिक कार्यों में करें …

Published

on

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी के फैलते संक्रमण के बीच रामनवमी और दुर्गा नवमी की बधाई देते हुए लोगों से बड़ी बात कही है।

उन्होंने कहा – समस्त देशवासियों को श्री रामनवमी के महापर्व की मंगलमय शुभकामनाएं।हमारे आराध्य प्रभु श्री राम का जीवन चरित्र समस्त मानव जाति के लिए एक आदर्श है। प्रभु, हमें संयम, सत्य और शील जैसे सद्गुणों से परिपूरित होने का आशीष प्रदान करें। जय श्री राम!!

यूपी में कोरोनाः पुलिस ने लोगों से की इकठ्ठा न होने की अपील, भीड़ ने कर दिया हमला

उन्होंने आगे कहा कि व्रत, तप व अनुष्ठान हमें त्याग, संयम व सत्य जैसे सद्गुणों को धारण करने की प्रेरणा देते हैं।

आज नवरात्रि की नवमी तिथि पर भी हम कोरोना वायरस के दृष्टिगत धार्मिक अनुष्ठानों के दौरान लॉकडाउन का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें और कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान को गति दें।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending