Connect with us

प्रादेशिक

बच्चन परिवार पर की गई टिप्पणियों पर अमर सिंह ने जताया खेद, देखें वीडियो

Published

on

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी (सपा) के पूर्व नेता अमर सिंह अपने एक वीडियो की वजह से सुर्खियों में आ गए हैं। वीडियो में वह अमिताभ बच्चन और उनके परिवार को लेकर की गई अपनी टिप्पणियों पर खेद प्रकट करते नजर आ रहे हैं।

फेसबुक के अलावा अमर सिंह ने पर ट्विटर भी अपने द्वारा की गई टिप्पणियों पर खेद जताया। उन्होंने ट्वीट किया, “आज मेरे पिता की पुण्यतिथि है और मुझे इसके बारे में अमिताभ बच्चन जी का मैसेज आया है। अपने जीवन के इस मुकाम पर जब मैं जिंदगी और मौत से जूझ रहा हूं, मुझे अमित जी और उनके परिवार के लिए हद से ज्यादा बोल जाने का पश्चाताप हो रहा है। ईश्वर उन सभी को अच्छा रखे।”

Message for Amit Ji

Today is my father’s death anniversary & I got a message for the same from Amitabh Bachchan ji. Sometimes you are aggressively reactive to a person whom you have given all your life. Similar turbulence of emotion did take place in our mutual releationship. At this stage of life when I am fighting a battle of life & death I regret for my over reaction against Amit ji & family. God bless them all.

Amar Singh ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಸೋಮವಾರ, ಫೆಬ್ರವರಿ 17, 2020

अमर सिंह को कुछ साल पहले किडनी संबंधित दिक्कत डायग्नोस हुई थी। इस दौरान अमिताभ बच्चन के साथ उनके रिश्तों में खटास आ गई थी। इसके बाद अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन को लेकर एक के बाद एक कई बयान दिए थे।

प्रादेशिक

कोरोना को रोकने के लिए योगी सरकार ने उठाया बड़ा कदम, ये 31 इलाके पूरी तरह सील

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के बढ़ते कोरोना संक्रमण के देखते हुए योगी सरकार अब पहले भी ज्यादा सक्रिय हो गई है। वायरस के रोकथाम के लिए विभिन्न जिलों के 31 से अधिक इलाकों को पूरी तरह से सील कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक जिन इलाकों को सील किया गया है वहां 48 घंटों में कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। रायबरेली जिले में दिल्ली से लौटे दो तब्लीगी जमातियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सोमवार को यहां के दस इलाकों को सील कर दिया गया था।

रायबरेली के पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई ने कहा कि नगर कोतवाली क्षेत्र में 200 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है और निजामुद्दीन मरकज से लौटे दो जमातियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। ये दोनों एक ‘धर्मशाला’ में रह रहे थे। उन्होंने कहा कि अग्निशमन दल और स्वास्थ्य कर्मचारी लगातार इन क्षेत्रों की सफाई कर रहे हैं।

इसी तरह, सीतापुर जिले के खैराबाद को भी सोमवार को सील कर दिया। यहां सादिक नाम के व्यक्ति के स्वामित्व वाले घर में 8 बांग्लाादेशी रह रहे थे। यहां एक का कोविड -19 परीक्षण पॉजिटिव आया था।

लखनऊ के पूरे सदर बाजार क्षेत्र को शुक्रवार शाम सील कर दिया गया था। यहां एक मस्जिद में तब्लीगी जमात के 12 सदस्य पाए गए जिनमें से 11 का इस घातक वायरस के लिए परीक्षण पॉजिटिव आया था।

सील किए गए सदर बाजार के निवासी रमेश भसीन ने आईएएनएस को फोन पर बताया कि उन्हें अपने दरवाजे पर खड़े होने या खिड़कियों के माध्यम से पड़ोसियों से बात करने की भी अनुमति नहीं दी जा रही है।

वाराणसी में चार इलाकों को भी सील कर दिया गया है। इनमें मदनपुरा, बजरडीहा, गंगापुर और लोहता शामिल हैं। इसके अलावा प्रतापगढ़, हाथरस, गाजीपुर, आजमगढ़ और कानपुर के विभिन्न इलाकों को भी सील कर दिया गया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “सभी सील हुए क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है और संक्रमण को रोकने के लिए यह किसी भी तरह के मूवमेंट को रोक दिया गया है।”

यह पूछे जाने पर कि लॉकडाउन अवधि में इलाकों को सील करने की जरूरत क्योिं पडी तो पुलिस अधिकारी ने बताया, “लॉकडाउन में, आवाजाही पर प्रतिबंध होता है, आपात स्थिति होने पर ही लोग बाहर जा सकते हैं। लेकिन जब हम किसी क्षेत्र को सील करते हैं, तो वहां किसी को भी घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होती है और आपात स्थिति होने पर हम उनके पास पहुंचते हैं।”

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, कानून और व्यवस्था, पी.वी. रामसस्त्रि ने कहा कि जिला पुलिस प्रमुखों और दो पुलिस आयुक्तों को एक निर्देश जारी किया गया है, जिसमें किसी भी स्थिति के प्रभावी संचालन के लिए एक रैपिड एक्शन टीम (आरएटी) और राज्य में कोरोना फैलने के कारण उत्पन्न हुई किसी भी स्थिति में अन्य विभागों के साथ समन्वय के लिए एक नोडल कोरोना सेल की स्थापना करने को कहा गया है।

उन्होंने कहा, “एक स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) जिसमें अंतरराष्ट्रीय क्षेत्रों के अनुसार जोखिम वाले क्षेत्रों से निपटने का एक उचित तरीका बताया गया है, उसे भी सभी जिलों के साथ साझा किया गया है।” उन्होंने कहा कि किसी भी ऑपरेशन को शुरू करने के लिए जरूरी उपकरण राज्य के सभी जिलों के पुलिस प्रमुखों को उपलब्ध कराए गए हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending