Connect with us

प्रादेशिक

शाहीन बाग केसः सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हमेशा के लिए सड़क बंद नहीं रख सकते प्रदर्शनकारी

Published

on

नई दिल्ली। करीब दो महीने से दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन एक्ट (सीएए) और नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन (एनआरसी) के खिलाफ सड़क जामकर धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई।

इस मामले पर सुनवाई करते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने सीधे तौर पर प्रदर्शनकारियों को हटाने का आदेश देने से इनकार कर दिया है। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि अनंतकाल के लिए किसी सार्वजनिक रास्ते को बंद नहीं किया जा सकता है।

इसके अलावा प्रदर्शन के दौरान मासूम की मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया है। प्रदर्शन में मासूम और नाबालिगों की भागीदारी रोकने को लेकर आज सुनवाई होगी।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने सड़क से प्रदर्शनकारियों को हटाने की मांग वाली याचिका पर दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद सुनवाई करने का फैसला लिया था।

 

प्रादेशिक

कोरोना की वजह से 14 तारीख को लॉकडाउन नहीं हटाएगा यह राज्य, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान

Published

on

नई दिल्ली। ओडिशा सरकार ने गुरुवार को कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है। कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने लॉकडाउन की अवधि को और 15 दिनों के लिए बढ़ाने का फैसला किया है।

अब राज्य में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा। कैबिनेट बैठक के बाद सीएम नवीन पटनायक ने कहा कि इस महत्वपूर्ण मोड़ पर हमें लोगों की जान बचाने और आर्थिक गतिविधियों को पटरी पर लाने के बीच फैसला लेना है।

आज कैबिनेट ने फैसला किया कि हमारे लोगों की जान बचाना इस समय सबसे बड़ी प्राथमिकता है। इस वजह से हमने 30 अप्रैल तक लॉक डाउन का विस्तार करने का फैसला लिया है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending