Connect with us

प्रादेशिक

जम्मूः मुठभेड़ में 3 आतंकी, ट्रक से ले जा रहे थे हथियारों का ज़खीरा

Published

on

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली। जम्मू में शुक्रवार को जारी मुठभेड़ में दो और आंतकवादी मारे गए है, इसके साथ ही मारे गए कुल आतंकवादियों की संख्या तीन हो गई है। पुलिस ने यह जानकारी दी। मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी भी घायल हो गया।

यह घटना सुबह लगभग 5.45 बजे हुई, जब पुलिस की एक टीम जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर नगरोटा टोल पोस्ट के पास वाहनों की जांच कर रही थी और उसने एक श्रीनगर जाने वाले एक ट्रक को रोक दिया।

जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा कि मॉड्यूल एक ताजा घुसपैठ से है जो कल रात जम्मू में अंतर्राष्ट्रीय सीमा से हुआ हो सकता है।

उन्होंने आगे कहा कि यह चार पाकिस्तानी आतंकवादियों का एक समूह था जो कश्मीर जा रहे थे। ट्रक को नगरोटा में नियमित जांच के हिस्से के रूप में रोका गया था।

इसके बाद शुरू हुई मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया और एक पुलिसकर्मी घायल हो गया जबकि अन्य तीन आतंकवादी जंगल में भाग गए। सिंह ने कहा कि तुरंत तलाशी अभियान शुरू किया गया और दोनों तरफ से गोलीबारी होने लगी।

भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया है। सूत्रों ने कहा कि यह जैश-ए-मोहम्मद का मॉड्यूल मालूम पड़ता है, जिसने जम्मू में हीरानगर-कठुआ अंतर्राष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ की थी।

सूत्रों ने यह भी कहा कि एक संदिग्ध को पुलिस ने पकड़ लिया है, जो आतंकी संगठन का ओवरग्राउंड वर्कर है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि कुछ स्थानीय लोग आतंकवादियों को जम्मू से श्रीनगर जाने में मदद करने की कोशिश कर रहे थे।

 

प्रादेशिक

रायबरेली: पॉक्सो कोर्ट ने मासूम की रेप के बाद हत्या के दोषी को दी फांसी की सजा

Published

on

रायबरेली। उत्तर प्रदेश के रायबरेली में डेढ़ साल की बच्ची से रेप और हत्या के दोषी को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। दरिंदे ने बच्ची से रेप के बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर दी थी और शव को गांव के पास एक ट्यूबवेल के बगल में बने गड्ढे में छिपा दिया था। घटना एक तिलक समारोह के दौरान हुई थी जिसमे बच्ची भी गई थी।

रात में जब काफी देर तक बच्ची का पता नहीं चला तो उसके पिता ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी। बाद में पुलिस ने एक गड्ढे से बच्ची का शव बरामद किया। मासूम के शव का पोस्टमार्टम हुआ तो दुष्कर्म के बाद गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई। जिसके बाद पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

जिला एवं सत्र न्‍यायालय के विशेष न्‍यायाधीश (पाक्‍सो कानून) ने शुक्रवार को यह फैसला सुनाया। अदालत ने अभियुक्त को कुल दो लाख बीस हजार रुपये के अर्थदंड के साथ मृत्‍युदंड की सजा सुनायी। अदालत ने जुर्माने की आधी रकम एक लाख 10 हजार रुपये पीड़िता के पिता को देने का आदेश दिया है।

सरकारी अधिवक्‍ता के मुताबिक, दो मई 2014 को डेढ़ वर्ष की मासूम बच्‍ची की दुष्‍कर्म के बाद गला दबाकर हत्‍या कर दी गई थी। इस सिलसिले में रायबरेली जिले के सलोन थाने में अगले दिन मुकदमा दर्ज कराया गया था। जिसके बाद पुलिस ने बच्ची के शव को बरामद करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।

 

Continue Reading

Trending