Connect with us

नेशनल

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने खारिज की मुकेश की दया याचिका, फांसी हुई पक्की

Published

on

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप व हत्या मामले में बड़ी अपडेट सामने आई है। जानकारी के मुताबिक दोषी मुकेश की दया याचिका को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने खारिज दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राष्ट्रपति ने दोषी मुकेश की फांसी की सजा को बरकरार रखने की सिफारिश की है। गृह मंत्रालय ने यह याचिका राष्ट्रपति को भेजी थी। बता दें कि आज ही डेथ वारंट पर कोर्ट में सुनवाई होनी है।

निर्भया की मां ने कही ये बात

निर्भया केस में फांसी की तारीख आने के बाद भी दोषियों की लेटलतीफी और नियम-कानून के चलते दोषियों की फांसी में देरी होती देख निर्भया की मां काफी परेशान हैं। शुक्रवार को एएनआई से बात करते समय उनका दर्द छलक पड़ा और वो फूट-फूटकर रोने लगीं।

इस मामले में जिस तरह गुरुवार को भाजपा और आम आदमी पार्टी ने एक-दूसरे पर आरोप लगाए उससे निर्भया की मां आशा देवी बहुत आहत हैं। उन्होंने कहा कि इतने साल तक मैं राजनीति पर कभी नहीं बोली लेकिन आज कहती हूं कि जिस तरह मेरी बच्ची की मौत पर राजनीति हो रही है वह ठीक नहीं है।

नेशनल

आगरा में ट्रंप की सुरक्षा में लगाए गए लंगूर

Published

on

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आगामी 24-25 फरवरी को भारत दौरे पर हैं। उनके दौरे पर पूरी दुनिया की निगाहे हैं। ट्रंप की सुरक्षा के लिए भारत में सुरक्षा के तगड़े प्रबंध किए गए हैं। जमीन से आसमान तक ट्रंप की सुरक्षा ऐसी है कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता।ट्रंप की सुरक्षा में सीक्रेट सर्विस एजेंट्स, मिलटरी-पैरा मिलिटरी फोर्स तो तैनात रहेंगी ही। साथ ही ड्रोन और हेलीकाप्टर से भी ट्रंप की सुरक्षा पर पैनी निगाह रखी जाएगी। बताया जा रहा है कि ट्रंप अपनी भारत यात्रा के दौरान ताज के भी दीदार करेंगे। हालांकि अभी इसपर संशय बना हुआ है लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार ट्रंप की सुरक्षा के मामले में कोई भी रिस्क नहीं लेना चाहती। इसलिए ताज दर्शन के दौरान लंगूरों को ड्यूटी पर लगाया गया है।

दरअसल, भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के चिंता इलाके में बंदर हैं। जिन्होंने इलाके में काफी उत्पात मचा रखा है, लिहाजा सुरक्षा व्यवस्था में कोई चूक न हो जाए इसके लिए खासतौर पर लंगूरों को भी तैनात किया जा रहा है। इन लंगूरों के पास बंदरों के उत्पात को रोकने का दारोमदार होगा। ऐसे पांच लंगूरों की तैनाती राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के रूट पर की जा रही है।

हालांकि, सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अफसरों को कुछ भी बताने का निर्देश नहीं है लेकिन जो जानकारी सामने आई है उसके अनुसार 10 कंपनी अर्धसैनिक बल, 10 कंपनी पीएसी के साथ एटीएस और एनएसजी के कमांडो को तैनात किया जाएगा। ताजमहल का दीदार करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया का 24 फरवरी को आगरा आने का कार्यक्रम है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending