Connect with us

प्रादेशिक

गाजियाबादः बच्चों को मारने से पहले गुलशन ने किया था ये काम, जानकर कांप जाएगी रूह

Published

on

नई दिल्ली। गाजियाबाद के इंदिरापुरम में मंगलवार को जींस कारोबारी द्वारा अपने बच्चों की हत्या करने के बाद पत्नी व महिला मैनेजर के साथ आत्महत्या के मामले ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। इस बीच शुरूआती जांच में कुछ ऐसी बातें सामने आई हैं जो हैरान कर देने वाली हैं।

गाजियाबाद हत्याकांड में पुलिस की तफ्तीश में नई बातें सामने आ रही हैं। शुरूआती जांच में पता चला है कि गुलशन ने बेटे की हत्या चाकू से गला रेतकर की थी, वहीं बेटी की हत्या गला दबाकर की थी। पुलिस ने फ्लैट से हत्या में प्रयुक्त चाकू, रस्सी, सल्फास, सीरिंज और 3 गिलास में लिक्विड बरामद किया है। सीरिंज को पुलिस बच्चों की हत्याओं की एक बड़ी कड़ी मान रही है।

पुलिस के मुताबिक गुलशन ने हत्या से पहले दोनों बच्चों को इंजेक्शन लगाकर बेहोश किया और फिर बेटे रितिक का धारदार चाकू से गला रेत दिया। वहीं बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके साथ ही खरगोश को भी मार दिया। इसी के बाद गुलशन ने अपने दोस्त रमेश अरोड़ा को वीडियो कॉल की।

पुलिस को गुलशन के फ्लैट के बाथरूम में सीरिंज मिली है। वहीं मौका-ए-वारदात सल्फास भी मिला है जिसपर पुलिस का कहना है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही यह साफ हो पाएगा कि आत्महत्या से पहले गुलशन उसकी पत्नी और महिला मैनेजर ने सल्फास खाया था कि नहीं।

प्रादेशिक

कोरोना से निपटने के प्रयासों में तेज़ी लाएं अधिकारी: योगी आदित्यनाथ

Published

on

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को अपने आवास पर उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को कई अहम निर्देश दिए। सीएम योगी ने कहा कि कोरोना महामारी को चुनौती मानते हुए इससे निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों में तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए ज्यादा सक्रिय होकर कार्य करना आवश्यक है।

उन्होंने कानपुर नगर, झांसी, वाराणसी, गोरखपुर तथा प्रयागराज में कोविड-19 के उपचार व संक्रमण नियंत्रण की व्यवस्था को और बेहतर करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने कहा कि कानपुर नगर में एसजीपीजीआई या केजीएमयू के विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम भेजी जाए जो वहां कैंप करके चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने में सहयोग एवं मार्गदर्शन प्रदान करे।

उन्होंने अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य तथा अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा को लखनऊ के एल-2 तथा एल-3 कोविड चिकित्सालयों का भ्रमण करके खाली बेड की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कानपुर नगर समेत प्रदेश भर में सर्विलांस व्यवस्था को और प्रभावी बनाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग तथा डोर-टू-डोर सर्वे गतिविधियां बेहतर की जाएं।

#yogiadityanath #chiefminister #corona #uttarpradesh

Continue Reading

Trending