Connect with us

प्रादेशिक

झारखंड विधानसभा चुनावः पहले चरण में हुआ 62.87 प्रतिशत मतदान

Published

on

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण में शनिवार को 62.87 प्रतिशत मतदान हुए। मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनय चौबे ने बताया कि आधिकारिक रूप से वोटिंग 3 बजे तक होनी थी लेकिन लोगों के लाइन में लगे होने की वजह से वोटिंग 3 बजकर 45 मिनट तक चली।

इस दौरान सबसे ज्यादा 64.16 प्रतिशत मतदान लोहरदगा विधानसभा सीट पर और सबसे कम 41.39 प्रतिशत मतदान बिशुनपुर सीट पर दर्ज किया गया। पहले चरण में नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में भारी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच मतदान हुआ।

डाल्टनगंज विधानसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के बीच झड़प हुई, बाद में स्थिति हालांकि सामान्य हो गई।

पुलिस के मुताबिक, डाल्टनगंज विधानसभा क्षेत्र के चैनपुर प्रखंड के अंतर्गत कोशियारा मतदान केंद्र पर यह घटना हुई है। कांग्रेस प्रत्याशी के.एन. त्रिपाठी के मुताबिक, भाजपा समर्थकों ने उन्हें जबरन मतदान केंद्र पर जाने से रोका। इस दौरान कांग्रेस प्रत्याशी के वाहन पर पथराव किया गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, त्रिपाठी समर्थकों और भाजपा समर्थकों में गाली-गलौज भी हुई। इसके बाद मतदान केंद्र पर तैनात सुरक्षाबल और त्रिपाठी के अंगरक्षक ने बीच-बचाव कर उस मतदान केंद्र से त्रिपाठी को रवाना कर दिया।

पहले चरण में कुल 37,78,963 मतदाताओं में 19,79,991 पुरुष और 17,98,966 महिलाएं और पांच तीसरे लिंग के मतदाता शामिल हैं। इन सीटों पर कुल 189 उम्मीदवार हैं, जिनमें 15 महिलाएं हैं। भवनाथपुर विधानसभा सीट पर 28 उम्मीदवार हैं।

प्रादेशिक

कुशीनगरः होम क्वारंटीन में शख्स की हुई मौत, पुलिस जुटा रही ट्रैवेल हिस्ट्री

Published

on

लखनऊ। कुशीनगर जिले के हाटा कोतवाली के बढ़या बुजुर्ग गांव में मुंबई से आए प्रवासी श्रमिक की मंगलवार को मौत हो गई। मृतक होम क्वारंटीन पर था। मौत की खबर मिलते ही पुलिस मृतक के घर पहुंचकर परिजनों से ट्रैवेल हिस्ट्री और साथ आए लोगों की जानकारी जुटा रही है।

जानकारी के अनुसार हाटा कोतवाली के बढ़या बुजुर्ग निवासी 45 वर्ष के व्यक्ति मुंबई में काम करता था। 24 मई को वह ट्रेन से गांव लौटा था। जहां से वह सरकारी व्यवस्था द्वारा बस से ढ़ाढा क्वारंरीन सेंटर पहुंचा।

शख्स की जांच के बाद स्वास्थ्य की टीम ने उसे होमक्वारंटीन के लिए भेज दिया। मंगलवार की शाम उसकी अचानक तबीयत बिगड़ गई जिसके बाद परिवार के सदस्य उसे लेकर प्राथामिक स्वास्थ्य केन्द्र सुकरौली पहुंचे।

शख्स की गंभीर हालत को देखते हुए उसे मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। परिजन मेडिकल कालेज ले जाने के बजाय घर लेकर चले गये। देर रात उसकी घर पर मौत हो गई।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending