Connect with us

नेशनल

अयोध्या पर फैसले के बाद पीएम मोदी का देश के नाम संबोधन, कही ये बड़ी बात

Published

on

नई दिल्ली। अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार शाम 6 बजे देश को संबोधित किया। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए आज के दिन को ऐतिहासिक बताया।

पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने कहा कि पूरे देश की इच्छा थी कि इस मामले की अदालत में रोजाना सुनवाई हो। जिसके बाद दशकों तक चली न्यायिक प्रक्रिया का अब समापन हो गया है।

आज दुनिया ने यह भी जान लिया है कि भारत का लोकतंत्र कितना जीवंत है और कितना मजबूत है। फैसला आने के बाद हर वर्ग, हर समुदाय और हर पंथ के लोगों ने खुले दिल से इसे स्वीकार किया है।

यह भारत के पुरातन संस्कृति को प्रतिबिंबित करता है। भारत विविधता में एकता के लिए जाना जाता है। आज यह मंत्र अपनी पूर्णता के साथ खिला हुआ नजर आता है जिसपर हमें गर्व होता है।

हजारों साल बाद भी किसी को भारत के इस प्राणतत्व को समझना होगा तो वो आज के इस ऐतिहासिक दिन का जरूर उल्लेख करेगा। उन्होंने आगे कहा कि सवा करोड़ की जनता आज नया इतिहास रच रहे हैं।

भारत के न्यायापालिका के इतिहास में भी यह दिन स्वर्णिम अध्याय की तरह है। सुप्रीम कोर्ट की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इस विषय पर सुप्रीम कोर्ट ने सबको धैर्य से सुना और यह सर्वसम्मति से इस पर फैसला सुनाया।

पीएम मोदी नए भारत के बारे में बात करते हुए कहा कि आज अयोध्या पर फैसले के साथ 9 नवंबर की तारीख हमे साथ रहकर आगे बढ़ने की सीख दे रही है।

कोर्ट का ये फैसला हमारे लिए नया सवेरा लेकर आया है। इस विवाद पर कई पीढ़ियों पर असर पड़ा है। लेकिन हमें ये संकल्प लेना होगा कि हम नए भारत का निर्माण करते हैं।

हमें सबको साथ लेकर, सबका विश्वास हासिल करते हुए आगे बढ़ना है। राम मंदिर के निर्माण का फैसला सुप्रीम कोर्ट ने दे दिया है। अब देश के हर नागरिक पर राष्ट्र निर्माण की जिम्मेदारी और बढ़ गई है।

पीएम मोदी ने कहा कि हमें भविष्य के भारत के लिए काम करते रहना है। भारत के सामने चुनौतियां बहुत हैं। मंजिलें और भी हैं। हर भारतीय साथ मिलकर इन लक्ष्यों को हासिल करेगा।

नेशनल

‘राज्य सभा में BJP अल्पमत में है’ – केजरीवाल

Published

on

By

केंद्र सरकार ने राज्यसभा में विरोध के बावजूद कृषि के तीन विधेयक पेश कर दिए हैं। इसके बाद इन बिलों को लेकर घमासान मचा हुआ है।

मलमास के मौके पर गंगा नहाने गई 03 किशोरियों की डूबने से मौत

तीनों विधेयकों को लेकर आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष व दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने विरोध किया है। केजरीवाल ने रविवार को ट्वीट करते हुए लिखा, ‘राज्य सभा में भाजपा अल्पमत में है।’

आम आदमी पार्टी के मुखिया केजरीवाल ने 18 सितंबर को भी ट्वीट कर सभी ग़ैर भाजपा पार्टियों से विनती कि थी कि वो राज्यसभा में एकजुट होकर इन विधेयकों का विरोध करें।

#BJP #agriculturebill #pmmodi #AAP #BJP

Continue Reading

Trending