Connect with us

नेशनल

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट आज 10ः30 बजे सुनाएगा फैसला

Published

on

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट में आज यानी शनिवार को ऐतिहासिक राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर पांच जजों की संवैधानिक पीठ फैसला सुनाएगी।

आपको बता दें कि वर्षों से चले आ रहे इस मामले की सुनवाई चालीस दिनों में पूरी हुई है, जिसमें हिंदू और मुस्लिम पक्षकारों की ओर से तीखी बहस की गई।

पांच जजों की संवैधानिक पीठ की अध्यक्षता चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई कर रहे हैं जबकि जस्टिस शरद अरविंद बोबडे, जस्टिस धनंजय यशवंत चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस अब्दुल नजीर इस पीठ के सदस्य हैं। फैसले से पहले शुक्रवार रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शांति बनाए रखने की अपील की।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा, ‘अयोध्या पर आज सुप्रीम कोर्ट का निर्णय आ रहा है। पिछले कुछ महीनों से सुप्रीम कोर्ट में निरंतर इस विषय पर सुनवाई हो रही थी, पूरा देश उत्सुकता से देख रहा था। इस दौरान समाज के सभी वर्गों की तरफ से सद्भावना का वातावरण बनाए रखने के लिए किए गए प्रयास बहुत सराहनीय हैं।’

पीएम मोदी ने दूसरे  ट्वीट  में लिखा ‘ देश की न्यायपालिका के मान-सम्मान को सर्वोपरि रखते हुए समाज के सभी पक्षों ने, सामाजिक-सांस्कृतिक संगठनों ने, सभी पक्षकारों ने बीते दिनों सौहार्दपूर्ण और सकारात्मक वातावरण बनाने के लिए जो प्रयास किए, वे स्वागत योग्य हैं। कोर्ट के निर्णय के बाद भी हम सबको मिलकर सौहार्द बनाए रखना है।’

‘अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला आएगा, वो किसी की हार-जीत नहीं होगा। देशवासियों से मेरी अपील है कि हम सब की यह प्राथमिकता रहे कि ये फैसला भारत की शांति, एकता और सद्भावना की महान परंपरा को और बल दे।’

नेशनल

Breaking: जयपुर से हैदराबाद जाने वाली फ्लाइट की करानी पड़ी आपात लैंडिंग, बड़ा हादसा टला

Published

on

नई दिल्ली। मोदी सरकार की अनुमति के बाद देशभर में घरेलू उड़ानें शुरू हो चुकी हैं। केंद्र सरकार की ओर से जारी की गई गाइडलाइंस का पालन करते हुए अब लोग एक शहर से दूसरे शहर की यात्रा कर रहे हैं।

इस बीच जयपुर से हैदराबाद जा रहे एयर एशिया के एक विमान में अचानक गड़बड़ी आ गई। गनिमत रही कि तब तक फ्लाइट हैदराबाद पहुंच चुकी थी जिसके बाद पायलट को आपात लैंडिंग करानी पड़ी।

सभी यात्री सुरक्षित हैं। बताया गया कि तकनीकी दिक्कत विमान के फ्यूल टैंक में आई थी। हालांकि पायलट की सूझबूझ से एक बड़ा हादसा टल गया। देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के चलते करीब दो महीने से बंद पड़ी घरेलू विमान सेवाओं को सोमवार 25 मई से बहाल किया गया था।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending