Connect with us

उत्तराखंड

‘निशंक‘ के पैतृक गांव पिनानी पहुंची राज्यपाल बेबी रानी मौर्य व सीएम त्रिवेंद्र

Published

on

देहरादून। देश की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री, डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक‘ के पैतृक गांव पिनानी पहुंचे।

पिनानी में ग्रामीणों ने सभी अतिथियों का वाद्य यंत्र व फूल मालाओं से स्वागत किया। इस दौरान डॉ. निशंक द्वारा अपने गांव पिनानी में बनाए गए घर की विधिवत पूजा अर्चना के बाद अपने परिजनों के साथ गृह प्रवेश किया।

इस अवसर पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष /सांसद अजय भट्ट, सांसद तीरथ सिंह रावत, सहकारिता, प्रोटोकॉल, दुग्ध विकास और उच्च शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. धन सिंह रावत, अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश सहित भाजपा पदाधिकारी राजेन्द्र अंथ्वाल, राजेन्द्र प्रसाद टम्टा, नरेन्द्र रावत, बालकृष्ण चमोली, चण्डी प्रसाद पोखरियाल और दूसरे गणमान्य व्यक्तियों ने कार्यक्रम में शामिल होकर ग्राम वासियों के साथ सहभोज भी किया।

 

उत्तराखंड

नम्रता-गौरव के स्टार्ट-अप को मिला मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का साथ, की आर्थिक मदद

Published

on

देहरादून। यमकेश्वर ब्लॉक के कंडवाल गांव में हेम्प से विभिन्न उत्पाद तैयार करने वाले गौरव व नम्रता को मशीन खरीदने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सीएम विवेकाधीन कोष से 10 लाख रूपए की राशि का चेक प्रदान किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पेशे से आर्किटेक्ट नम्रता व गौरव ने यमकेश्वर जैसे दूरदराज ब्लॉक के गांव में हेम्प से उत्पाद बनाने का स्टार्ट अप शुरू कर अन्य युवाओं को स्वरोजगार की राह दिखाई है। उन्होंने बताया है कि किस प्रकार से स्थानीय रूप से उपलब्ध संसाधनों का प्रयोग कर स्वयं के साथ ही अन्य लोगों को रोजगार दिया जा सकता है।

गौरव और नम्रता ने बताया कि वे दोनों दिल्ली में रहते थे। काफी रिसर्च के बाद उन्होंने पहाड़ में पाए जाने वाले हेम्प को रोजगार का साधन बनाने का निर्णय किया।

वर्तमान में वे इसके बीज के तेल से साबुन बना रहे हैं। इससे भवन निर्माण सामग्री भी बनाई जा सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को उनके द्वारा हेम्प से ग्रामीण आर्थिकी में सुधार पर जानकारी दी गई थी। मिनिस्ट्रि ऑफ हाउसिंग के स्पेशल पब्लिकेशन में ‘हेम्प की भवन निर्माण तकनीक’ पर उनकी रिसर्च पर लेख भी प्रकाशित हुआ था।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending