Connect with us

नेशनल

इस तकनीक की मदद से दोबारा खड़ा हो सकता है विक्रम लैंडर, वैज्ञानिकों ने तेज की कोशिशें

Published

on

नई दिल्ली। चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग से कुछ सेकेंड पर विक्रम लैंडर के रास्ता भटकने के बाद इसरो ने रविवार को लैंडर के लोकेशन का पता लगा लिया है। इसरो के मुताबिक विक्रम लैंडर चांद पर अपने तय जगह से 500 मीटर दूर गिरा है।

लोकेशन मिलने के बाद भारतीय वैज्ञानिक लगातार लैंडर से संपर्क साधने की कोशिश में जुटे हैं। अगर वैज्ञानिक लैंडर से संपर्क स्थापित करने में कामयाब हो जाते हैं तो विक्रम लैंडर दोबारा अपने पैरों पर खड़ा हो सकता है।

जानकारी के मुताबिक विक्रम लैंडर को बनाने में ऐसी तकनीक का प्रयोग किया गया है जिससे यह अपने पैरों पर दोबारा खड़ा हो सकता है।

विक्रम लैंडर में लगे ऑनबोर्ड कम्प्यूटर से यह कई काम खुद ही कर सकता है। सूत्रों के मुताबिक विक्रम लैंडर के गिरने से वह एंटीना दब गया है जिसके जरिए कम्युनिकेशन सिस्टम को कमांड भेजा जा सकता था।

अभी इसरो वैज्ञानिक यह प्रयास कर रहे हैं कि किसी तरह उस एंटीना के जरिए विक्रम लैंडर को वापस अपने पैरों पर खड़ा होने का कमांड दिया जा सके। अब आप सोच रहे होंगे कि गिरा हुआ विक्रम लैंडर खुद-ब-खुद अपने पैरों पर कैसे खड़ा होगा। क्या कोई उसे वहां उठाएगा।

इस तरह अपने पैरों पर खड़ा हो सकता है लैंडर

इसरो के जुड़े सूत्रों के मुताबिक विक्रम लैंडर के नीचे की तरफ पांच थ्रस्टर्स लगे हैं। जिसके जरिए इसे चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करनी थी। इसके अलावा, विक्रम लैंडर के चारों तरफ भी थ्रस्टर्स लगे हैं, जो अंतरिक्ष में यात्रा के दौरान उसकी दिशा तय करने के लिए ऑन किए जाते थे।

ये थ्रस्टर्स अब भी सुरक्षित हैं। लैंडर के जिस हिस्से में कम्युनिकेशन एंटीना दबा है, उसी हिस्से में भी थ्रस्टर्स हैं। अगर पृथ्वी पर स्थित ग्राउंड स्टेशन से भेजे गए कमांड को सीधे या ऑर्बिटर के जरिए दबे हुए एंटीना ने रिसीव कर लिया तो उसके थ्रस्टर्स को ऑन किया जा सकता है।

थ्रस्टर्स ऑन होने पर विक्रम एक तरफ से वापस उठकर अपने पैरों पर खड़ा हो सकता है। अगर ऐसा हुआ तो इस मिशन से जुड़े वे सारे प्रयोग हो पाएंगे जो पहले से इसरो के वैज्ञानिकों ने चंद्रयान-2 को लेकर तय किए थे।

नेशनल

VIDEO : सचिन की पॉलिटिकल बैटिंग से मुश्किल में गहलोत सरकार

Published

on

By

राजस्थान से खबर आ रही है कि कुछ देर में जयपुर में कांग्रेस विधायक दल की बैठक होनी है। इस बैठक के लिए विधायकों का आना शुरू हो गया है।

कांग्रेस पार्टी की ओर से व्हिप जारी किया गया है कि जो भी इस बैठक में नहीं आएगा, उसपर कड़ा एक्शन लिया जाएगा। इसी बीच सचिन पायलट गुट का दावा है कि उनके समर्थन में तीस विधायक हैं, जो इस बैठक में शामिल नहीं होंगे।

केंद्रीय नेतृत्व की ओर से जयपुर भेजे गए रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पिछले 48 घंटे में कांग्रेस नेतृत्व ने कई बार सचिन पायलट से बात की है। राजस्थान सरकार जनता की सेवा के लिए काम करेगी। हम सभी विधायकों और नेताओं से अपील करते हैं कि वो विधायक दल की बैठक में शामिल हों, कांग्रेस की सरकार को मजबूत करने का काम करें।

#rajasthan #congress #Congressparty

Continue Reading

Trending