Connect with us

खेल-कूद

DDCA का एलान, अब अरुण जेटली स्टेडियम के नाम से जाना जाएगा फिरोजशाह कोटला

Published

on

नई दिल्ली। दिल्ली का मशहूर फिरोजशाह कोटला स्टेडियम अब दिवंगत बीजेपी नेता अरुण जेटली के नाम से जाना जाएगा। दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (DDCA) ने फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम अरुण जेटली स्टेडियम करने का फैसला किया है।

आपको बता दें कि हाल ही में पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया था। जेटली डीडीसीए के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के उपाध्यक्ष रह चुके हैं।

जानकारी के मुताबिक स्टेडियम के नाम बदलने का कार्यक्रम 12 सितंबर को आयोजित किया जाएगा और इसी दिन स्टेडियम के एक स्टैंड का नाम भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम पर रखा जाएगा। डीडीसीए ने खुद अपने ट्विटर हैंडल से स्टेडियम का नाम बदलने की जानकारी दी।

डीडीसीए ने ट्वीट किया, ‘कोटला का नाम बदल कर अरुण जेटली स्टेडियम कर दिया जाएगा। हालांकि मैदान का नाम फिरोजशाह कोटला ही रहेगा। दिल्ली के ऐतिहासिक क्रिकेट स्टेडियम का नाम बदलने के लिए समारोह का आयोजन 12 सिंतबर को किया जाएगा और इसी दिन स्टेडियम के एक स्टैंड का नाम विराट कोहली के नाम पर होगा।’

डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा, ‘वह अरुण जेटली का सहयोग और प्रोत्साहन था जो कि विराट कोहली, वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, आशीष नेहरा, ऋषभ पंत और कई अन्य खिलाड़ियों ने भारत को गौरवान्वित किया।’

 

खेल-कूद

अब बिरयानी के लिए तरसेंगे पाकिस्तान के खिलाड़ी, जानिए वजह

Published

on

नई दिल्ली। पाकिस्तान के नए कोच मिस्बाह-उल-हक ने कोच बनते ही खिलाड़ियों के बिरयानी और मिठाई खाने पर बैन लगा दिया है। मिस्बाह ने ऐसा खिलाड़ियों के फिटनेस ठीक करने के लिए किया है।

आपको बता दें कि वर्ल्ड कप भारत से हार का सामना करने के बाद पाकिस्तान के समर्थकों ने खिलाड़ियों के फिटनेस को लेकर सवाल उठाए थे।

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज भारत से हारने के बाद पाकिस्तान की जनता के निशाने पर आ गए थे। उनकी फिटनेस को लेकर जनता ने उन्हें खूब ट्रोल किया था।

रिपोर्ट के अनुसार, मिस्बाह ने राष्ट्रीय कैम्प और घरेलू टूर्नामेंट में खिलाड़ियों की डाइट में बदलाव करने की मांग की है ताकि टीम में नया फिटेनस कल्र्चर लाया जाए। उन्होंने खिलाड़ियों को बिरयानी और मिठाइयां खाने से मना किया है।

पाकिस्तान के पत्रकार साज सद्दीक ने ट्वीट किया, “खबरों के अनुसार, मिस्बाह-उल-हक ने घरेलू टूनार्मेट और राष्ट्रीय कैम्प में खिलाड़ियों के लिए आहार और पोषण की योजना को बदल दिया है। अब खिलाड़ियों के लिए बिरयानी या मिठाइयां नहीं होगीं।”

मिस्बाह और वकार यूनिस के मार्गदर्शन में अपनी पहली सीरीज में पाकिस्तान का सामना श्रीलंका से होगा। पाकिस्तान अपने घर में श्रीलंका के खिलाफ 27 सितंबर से नौ अक्टूबर के बीच तीन वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending