Connect with us

खेल-कूद

स्वदेश लौटते ही सिंधु ने की प्रधानमंत्री से मुलाकात, मेडल पहनाकर पीएम मोदी ने दिया आशीर्वाद

Published

on

नई दिल्ली। बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचने वाली भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने स्वदेश लौटने के बाद मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर सिंधु के साथ मुलाकात की फोटो पोस्ट की है और फोटो के साथ लिखा है, “यह भारत के लिए गर्व की बात है। एक चैम्पियन ने गोल्ड जीता। पीवी सिंधु से मिलकर खुशी हुई। उन्हें बधाई और उनके सुनहरे भविष्य के लिए शुभकामनाएं।”

ओलम्पिक रजत पदक विजेता सिंधु ने रविवार को स्विट्जरलैंड के बासेल में हुई बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा को 21-7, 21-7 से हराकर चैम्पियनशिप में पहली बार स्वर्ण पदक जीता।

सिंधु टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय बनीं। वह इससे पहले इस टूर्नामेंट में लगातार दो बार (2017 और 2018) फाइनल में हारी थीं। लेकिन, इस बार उन्होंने इस गतिरोध को तोड़ा और बैडमिंटन में पहली भारतीय विश्व चैम्पियन बन गईं।

इससे पहले सिंधु केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू से भी मिलीं। रिजिजू ने कहा कि सिंधु ने बीडब्ल्यूएफ विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर भारत को गौरवान्वित किया है। सिंधु मंगवार की सुबह भारत आईं। उन्होंने इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर संवाददाताओं से बात भी की।

 

खेल-कूद

भारतीय बॉलरों के आगे फिर फेल हुए दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज

Published

on

नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज एक बार फिर भारतीय गेंदबाजों के सामने परेशानी में पड़ गए हैं। झारखंड राज्य क्रिकेट संघ (जेएससीए) स्टेडियम में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन सोमवार को पहले सत्र का खेल खत्म होने तक मेहमान टीम ने अपने छह विकेट 129 रनों पर खो दिए हैं। भोजनकाल की घोषणा तक जॉर्ज लिंडा 10 और डीन पीट चार रन बनाकर खेल रहे हैं।

अभी तक दक्षिण अफ्रीका के लिए जुबेर हमजा ही भारतीय गेंदबाजों का कुछ हद तक सामने करने में सफल रहे। उन्होंने 79 गेंदों पर 10 चौके और एक छक्के की मदद से 62 रनों की पारी खेली। उन्हें रवींद्र जडेजा ने अपना शिकार बनाया।

हमजा दूसरे दिन नाबाद लौटे थे। उनके साथ कप्तान फाफ डु प्लेसिस (1) रन बनाकर नाबाद थे। तीसरे दिन इन दोनों ने दक्षिण अफ्रीका को दो विकेट के नुकसान पर नौ रनों के स्कोर से आगे बढ़ाया।

डु प्लेसिस को हालांकि दिन के पांचवीं गेंद पर उमेश यादव ने बोल्ड कर दिया। हमजा ने अपना खाता खोला और फिर भारतीय गेंदबाजों से अकेले लोहा लेने लगे। हमजा को टीम के उप-कप्तान टेम्बा बावुमा का कुछ साथ मिला और दोनों ने कुछ हद तक टीम को संभाला। इन दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 91 रनों की साझेदारी हुई। जडेजा ने 107 के कुल स्कोर पर हमजा को बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा।

अपना पदार्पण टेस्ट मैच खेल रहे शहबाज नदीम ने अपनी फिरकी से इस साझेदारी के दूसरे सिपाही बावुमा को पवेलियन भेजा। हमजा के आउट होने के बाद अगले ओवर में नदीम की गेंद पर बावुमा चूक गए और रिद्धिमान साहा ने उन्हें स्टम्पिंग करने में कोई गलती न करते हुए दक्षिण अफ्रीका को पांचवां झटका दिया। इसी के साथ नदीम ने टेस्ट में अपना विकेट का खाता खोला।

इस मैच में टीम में आए हेनरिक क्लासेन सिर्फ छह रन बना सके। जडेजा ने उन्हें 119 के कुल स्कोर पर बोल्ड किया। भारत के लिए अभी तक उमेश यादव और जडेजा दो-दो विकेट ले चुके हैं। मोहम्मद शमी और नदीम के हिस्से एक-एक सफलता आई है। रविचंद्रन अश्विन अभी तक खाली हाथ हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending