Connect with us

नेशनल

स्वतंत्रता दिवस पर सेना को लेकर पीएम मोदी ने की ये बड़ी घोषणा

Published

on

नई दिल्ली। 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को लाल किले पर छठी बार तिरंगा झंडा फहराया। इस दौरान उन्होंने कई बड़ी घोषणाएं कीं। देशवासियों को संबोधित करते हुए उन्होंने बताया कि जल्द ही रक्षा के क्षेत्र में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) की नियुक्ति की जाएगी। आपको बता दें कि यह विभिन्न रक्षा पैनलों की लंबे समय से लंबित सिफारिश रही है।

73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मैं लाल किले की प्राचीर से एक महत्वपूर्ण घोषणा करना चाहता हूं। भारत में एक चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) की नियुक्ति की जाएगी। यह बलों को और भी ज्यादा प्रभावी बनाने का काम करेगा। नई सीडीएस पोस्ट सशस्त्र बलों के तीनों अंगों की देखरेख करेगी।”

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद का निर्माण करना कारगिल समीक्षा समिति की एक प्रमुख सिफारिश रही है। इसमें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के तहत तीनों सेनाओं आर्मी, एयर फोर्स और नेवी के एकीकरण करने की बात कही गई। हालांकि, इस पर अब तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई थी।

सरकार ने सशस्त्र बलों की युद्धक क्षमता को बढ़ाने और रक्षा व्यय को फिर से संतुलित करने के उपायों की सिफारिश करने के लिए सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल डी.बी. शेकटकर की अध्यक्षता में 11 सदस्यीय समिति का गठन किया था।

समिति ने रक्षा मंत्री के मुख्य सैन्य सलाहकार के रूप में एक फोर-स्टार चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ को नियुक्त करने का सुझाव सरकार को दिया।

कारगिल युद्ध के दौरान सेना प्रमुख रहे सेवानिवृत्त जनरल वेद प्रकाश मलिक ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा घोषणा किए जाने के तुरंत बाद इस निर्णय का स्वागत किया।

उन्होंने ट्वीट किया, “प्रधानमंत्री मोदी चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद की ऐतिहासिक घोषणा करने के लिए आपका धन्यवाद।” मलिक ने कहा, “यह कदम हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को अधिक प्रभावी और अधिक किफायती बना देगा। यह बेहतर ज्वाइंटमैनशिप और मल्टी-डिसिप्लिनरी अकॉर्डिनेशन सुनिश्चत करेगा। आपको सलाम।”

नेशनल

उपमुख्यमंत्री पद से हटाए गए सचिन पायलट, पार्टी अध्य्क्ष पद से भी छुट्टी

Published

on

नई दिल्ली। राजस्थान में सचिन पायलट की बगावत और मानमुनव्वल की सोमवार की की गई कोशिशों को बाद पार्टी आलाकमान ने सचिन पायलट को उप मुख्यमंत्री पद से बर्खास्त कर दिया गया है। साथ ही उन्हें पार्टी अध्यक्ष पद से भी हटा दिया गया है।

पायलट की जगह पर शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। सचिन पायलट के अलावा विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष के साथ ही मंत्री पद से हटाए जाने का ऐलान किया। सुरजेवाल ने कहा कि पायलट के साथ ही विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को भी मंत्री पद से हटाया जा रहा है। सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस विधायक पायलट के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे।

#sachinpilot #rajasthan #congress

Continue Reading

Trending