Connect with us

प्रादेशिक

कश्मीरी लड़कियों पर विवादित टिप्पणी करने पर सीएम खट्टर पर भड़के राहुल गांधी

Published

on

नई दिल्ली। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के कश्मीरी लड़कियों विवादित बयान देकर सुर्खियों में आ गए हैं। उनके इस विवादित टिप्पणी पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने हमला बोला है।

राहुल ने ट्विटर के जरिए हरियाणा सीएम पर हमला बोलते हुए कहा कि कश्मीरी महिलाओं पर टिप्पणी घृणित है। साथ ही राहुल गांधी ने कहा है कि महिलाएं पुरुषों के हक वाली संपत्ति नहीं हैं। दरअसल, जम्मू कश्मीर से केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया है, जिसके बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस से संबंधित एक विवादित बयान दिया था, जिस पर विवाद खड़ा हो गया है।

ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा, ‘हरियाणा के सीएम, खट्टर की कश्मीरी महिलाओं पर टिप्पणी घृणित है और यह दर्शाता है कि कमजोर, असुरक्षित और दयनीय आदमी के साथ आरएसएस की वर्षों की ट्रेनिंग क्या करता है। महिलाएं पुरुषों के स्वामित्व वाली संपत्ति नहीं हैं।’ उन्होंने कहा था कि अब कश्मीरी लड़कियों को शादी करके यहां लाने का रास्ता साफ हो गया है।

प्रादेशिक

एनकाउंटर के डर उज्जैन पुलिस के सामने गिड़गिड़ाता रहा विकास दुबे, बोला-मुझे यहीं जेल में डाल दो

Published

on

लखनऊ। यूपी के कानपुर के आठ पुलिस वालों के हत्यारे विकास दुबे को यूपी एसटीएफ ने उसके अंजाम तक पहुंचा दिया है। अब विकास दुबे के मारे जाने के बाद इस केस को लेकर रोज़ नए खुलासे हो रहे हैं। बता दें कि उज्जैन में महाकाल के दर्शन करते समय पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था, इसके बाद जब उज्जैन पुलिस उसे यूपी एसटीएफ के हवाले करने जा रही थी तो वह बार-बार उनके सामने गिड़गिड़ा रहा था। विकास कह रहा था कि वह उसे यूपी एसटीएफ के हवाले न करें। उसे यही जेल में डाल दिया जाए। विकास को डर था कि जिस तरह एक-एक कर उसके साथियों का एनकाउंटर हो रहा है कहीं यूपी पुलिस उसका भी एनकाउंटर न कर दे।

विकास को छोड़ने जा रही टीम में शामिल एक जवान ने स्थानीय अखबार से बात करते हुए कहा है कि विकास लगातार डरा हुआ था। उसे पता था कि यूपी पुलिस के हाथ लगा तो उसके साथ कुछ गलत हो सकता है। विकास को यूपी पुलिस के हवाले करने 16 जवानों की टीम गई थी। वह लगातार पुलिस की टीम से कहा रहा था कि मुझे उज्जैन जेल में ही डाल दो। एक जवान ने बताया कि वह उज्जैन में ही रखे जाने को लेकर रास्ते भर गिड़गिड़ा रहा था।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पूछताछ के दौरान विकास दुबे पुलिस के सामने कई बार रोया था। उसने उज्जैन में अधिकारियों से भी गुहार लगाई थी कि मुझे कोर्ट में पेशी को बाद उज्जैन जेल में ही भिजवा दो, लेकिन ऐसा हुआ नहीं और वो अपने अंजाम तक पहुंच गया।

#VIKASDUBEY #UJJAINPOLICE #UPSTF

Continue Reading

Trending