Connect with us

मनोरंजन

सिद्धार्थ मल्होत्रा की ‘जबरिया जोड़ी’ पर भारी पड़ी राजीव खंडेलवाल की ‘प्रणाम’

Published

on

मुंबई। इस शुक्रवार रिलीज हुई फिल्म प्रणाम का जादू लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। राजीव खंडेलवाल स्टारर फिल्म को दर्शकों का अच्छा रिस्पॉन्स मिला है।

80-90 के दशक की पृष्ठभूमि पर बनी इस फिल्म ने लोगों को फिर से पुराने दिनों की यादें ताजा करा दी हैं। फिल्म में राजीव खंडेलवाल और अतुल कुलकर्णी की दमदर एक्टिंग की लोग जमकर सराहना कर रहे हैं।

जबकि सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म जबरिया जोड़ी लोगों की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सकी। कमजोर स्क्रिप्ट की वजह से ये फिल्म लोगों को पंसद नहीं आई जिसका असर आने वाले समय में इस फिल्म के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन पर पड़ेगा।

फिल्म को हर जगह से मिल रहे नेगेटिव रिव्यू से फिल्म की कमाई के रास्ते लगभग बंद हो चुके हैं। आज तक चैनल के रिव्यू में जबरिया को 5 में से 1.5 स्टार मिले हैं। आजतक की हेडलाइन के मुताबिक ‘ सिद्धार्थ मल्होत्रा-परिणीति चोपड़ा की ये जबरिया जोड़ी बर्दाश्त करना मुश्किल’

वही live mint की हेडलाइन से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि उन्होंने फिल्म के लिए कैसा रिव्यू दिया है। लाइव मिंट के हैडलाइन दी है – ‘Jabariya Jodi’ can’t force you to like it.

इसके अलावा और भी कई ब़ड़े मीडिया संस्थानों से जबरिया जोड़ी को नेगेटिव रिव्यू मिले हैं वहीं फिल्म प्रणाम को दर्शकों के अलावा क्रिटिक्स ने भी तारीफ की है जिसका फायदा फिल्म के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन को मिलेगा।

मनोरंजन

8 साल तक इस जानलेवा रोग से ग्रस्त थे अमिताभ बच्चन, वर्षों बाद पता चली थी बीमारी

Published

on

मुंबई। सदी के महानायाक अमिताभ बच्चन ने खुद को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा किया है। एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने बताया कि उन्हें आठ साल तक टीबी जैसी खतरनाक बीमारी थी और वो इस बात से बिलकुल अंजान थे।

उन्होंने आगे कहा कि ये बताने में उन्हें बुरा नहीं लगता कि वह टीबी के मरीज रह चुके हैं। अमिताभ एनडीटीवी के ‘स्वास्थ्य इंडिया’ की लॉन्चिग के मौके पर डॉक्टर हर्षवर्धन से बातचीत कर रहे थे, और उन्होंने उनसे आग्रह किया कि नियमित जांच के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए, ताकि शुरुआत में ही बीमारी का पता चल सके।

बिग बी ने कहा, “मैं हर समय अपने व्यक्तिगत उदाहरण को सबके सामने लाता रहता हूं और कोशिश करता हूं कि आप सबको इसके प्रति जागरूक कर सकूं और मुझे यह सार्वजनिक तौर पर कहते हुए बुरा नहीं लगता है कि मैं एक टीबी का और हेपेटाइटिस बी का मरीज रहा हूं।”

अमिताभ (76) कई सारे स्वास्थ्य अभियानों जैसे पोलियो, हेपेटाइटिस-बी, टीबी और मधुमेह से जुड़े रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे इन बीमारियों की जांच करवाएं और इलाज करवाएं।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending