Connect with us

प्रादेशिक

पॉर्न फ़िल्में दिखाकर करता था बेटी से रेप, छात्रा ने पुलिस को बताई दास्तां

Published

on

नई दिल्ली। छह साल की एक बच्ची जिसका बाप ही उसके साथ कई सालों से रेप कर रहा था। अब बच्ची 10वीं क्लास में पहुंच गई है। बच्ची ने अपने साथ हुई इस घटना को एक डायरी में भी लिखा है जिसे पढ़कर पुलिस भी हैरान रह गई है।

पीड़ित बच्ची ने अपने पिता के पापों के बारे में सबसे पहले अपने स्कूल के शिक्षकों को बताया। बच्ची की बात की सुनकर शिक्षकों के होश उड़ गए। इसके बाद शिक्षकों की मदद से ही यह बच्ची पुलिस तक पहुंच सकी। बच्ची ने बताया कि जब वो छह साल की थी तब से ही उसके पिता उसका यौन शोषण करते आ रहे हैं। बच्ची के मुताबिक जब उसकी मां घर में नहीं होती थी तब उसके पिता उसे गंदी फिल्में दिखा उसके साथ रेप किया करते थे।

पीड़िता ने बताया कि शुरुआत में वो पिता की हरकतों के बारे में नहीं समझ पाई। इस बीच वो कुछ वर्षों के लिए अपनी नानी के घर चली गई। वहां से लौटने के बाद उसके पिता ने दोबारा उसका यौन शोषण शुरू कर दिया। इस बार उसने अपने पिता का विरोध किया लेकिन उसके पिता ने उसे डांट और मारपीट कर शांत कर दिया। लड़की ने अपने पिता की करतूतों के खिलाफ एक डायरी भी लिखी। इस डायरी में उसने अपने पिता की घिनौनी मानसिकता के बारे में बताया।

बहरहाल अब नाबालिग बच्ची की शिकायत पर पुलिस ने इस मामले की गंभीरता को समझते हुए त्वरित कार्रवाई की। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

प्रादेशिक

कैबिनेट में फेरबदल से पहले योगी सरकार के वित्त मंत्री ने दिया इस्तीफा

Published

on

लखनऊ। योगी सरकार द्वारा बुधवार को किए जाने वाले कैबिनेट विस्तार से पहले मंगलवार को वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने इस्तीफा दे दिया है।

राजेश ने इस्तीफे के लिए स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक स्वास्थ्य कारणों और बढ़ती उम्र की वजह से उन्होंने सीएम योगी को अपना इस्तीफा सौंपा है।

हालांकि उनका इस्तीफा मंजूर हुआ है या नहीं इस बात की जानकारी नहीं मिली है। गौरतलब है कि 75 साल के राजेश अग्रवाल बरेली से लगातार बीजेपी विधायक रहे हैं।

वे पार्टी के कद्दावर नेताओं में से एक हैं। अपने इस्तीफे में उन्होंने लिखा है कि अब वे 75 वर्ष के होने जा रहे हैं। पार्टी की रीती-नीति के अनुसार वे अपना त्याग पत्र बीजेपी नेतृत्व को दो दिन पहले ही सौंप चुके हैं।

उन्होंने लिखा है कि उनकी जगह कुछ नए और योग्य चेहरों को काम करने का अवसर दिया जाए। साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ पार्टी संगठन के लिए काम करते रहने की बात कही है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending