Connect with us

प्रादेशिक

कांग्रेस की देन है सोनभद्र में हुई घटना, जानिए इस मामले का पूरा सच

Published

on

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र घटना पर दुःख जताया है। उन्होंने कहा है कि इस घटना को लेकर सरकार सख्त कार्रवाई करेगी।

दुःख जताने के साथ योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे का पूरा ठीकरा कांग्रेस सरकार के सिर फोड़ दिया है। मुख्यमंत्री का कहना है कि जमीन को लेकर इस विवाद की नींव 1955 में रही सरकार के समय पर पड़ी थी।

शुक्रवार को लखनऊ में हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे को लेकर खेद प्रकट किया साथ ही ये आश्वासन दिया की इस मामले को लेकर सरकार कड़े कदम उठाएगी।

योगी ने 1955 और 1989 में रही कांग्रेस सरकार को इस घटना का दोषी बताया है। योगी का कहना है कि इस प्रकरण की नींव 1955 में रही कांग्रेस सरकार के समय पर पड गयी थी।

दरअसल, 1955 में ग्राम पंचायत की जमीन को आदर्श सोसाइटी के नाम पर दर्ज़ कर दिया गया था उसके बाद वनवासी इस जमीन पर खेती बाड़ी करते थे मगर बाद में 1989 में इस जमीन को एक किसी व्यक्ति के नाम कर दिया गया।

1955 और 1989 दोनों की वक़्त कांग्रेस का शासन था। सीएम योगी ने बताया कि पीड़ित दल इस जमीन पर खेती कर रहा था और साथ ही प्रधान को कुछ पैसे भी दे रहा था मगर प्रधान द्वारा वाद दायर करने के बाद पीड़ित दल ने पैसे देना बंद कर दिया था। इस मामले में अब तक 29 आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं जिनमें से एक मुख्या आरोपी प्रधान भी शामिल है।

योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में सख्त कार्रवाई का आश्वासन देते हुए बताया कि उन्होंने डीजीपी को व्यक्तिगत रूप से इस मामले की पड़ताल करने का आदेश दिया है।

उन्होंने ये भी स्वीकार किया की अधिकारियों ने इस मामले में लापरवाही दिखाई है। जमीन पर विवाद का खतरा होने के बावजूद भी अधिकारी लापरवाही करते रहे। इतना ही नहीं इस मामले के चलते एसडीएम, सीओ, और इंस्पेक्टर को ससपेंड भी किया गया है।

प्रादेशिक

दो साल तक अपनी बेटी की इज्जत लूटता रहा दरिंदा, फिर एक दिन….

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के एक व्यक्ति को अपनी 19 वर्षीय बेटी से दो साल तक दुष्कर्म करने और फिर उसकी हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने यह जानकारी दी।

यह घटना गोरखपुर में हुई और आरोपी को शुक्रवार को उसकी बड़ी बेटी की शिकायत के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस ने कहा कि व्यक्ति ने अपनी छोटी बेटी के साथ पिछले दो सालों में कई बार दुष्कर्म किया और फिर 26 जुलाई की रात उसे मार डाला। आरोपी ने उसके सिर को धड़ से अलग कर दिया। वहशी पिता ने उरवा इलाके में उसके सिर को दफना दिया और शरीर के निचले हिस्से को एक नाले में फेंक दिया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) सुनील गुप्ता ने कहा, “पूछताछ के दौरान, आरोपी ने पुलिस के सामने स्वीकार किया कि उसने पिछले दो वर्षों में अपनी बेटी के साथ कई बार दुष्कर्म किया और फिर उसकी हत्या कर दी।”

आरोपी की पत्नी की 15 साल पहले मौत हो चुकी है और उसकी बड़ी बेटी की शादी 2015 में हुई थी। वह छोटी बेटी के साथ रह रहा था।

बड़ी बेटी को उस समय शक हुआ जब उसकी बहन रक्षा बंधन पर उससे मिलने नहीं गई। जब उसने इस बारे में पूछताछ की, तो आरोपी ने उसे बताया कि उसने अपनी छोटी बेटी की हत्या कर दी है।

एसएसपी ने बताया, “पुलिस ने शव को बरामद कर लिया है। आरोपी पिता के खिलाफ हत्या और दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है और उसे जेल भेज दिया गया है।”

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending