Connect with us

नेशनल

मीडिया के सामने फूट-फूटकर रोए साक्षी के भाई, कहा-मैनें हमेशा उसे…..

Published

on

नई दिल्ली। बरेली के बिथरी से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी को लेकर उसके भाई ने कई राज खोले हैं। मीडिया बात करते हुए विक्की भरतौल ने कहा कि उसे यह उम्मीद बिल्कुल नहीं थी। उसने जो आरोप लगाए हैं वो असहनीय हैं।

बातचीत के दौरान विक्की ने बताया कि उनकी बहन का चाहे जो आरोप लगाए लेकिन सच तो ये है कि उन्होंने उसे हर तरह से सपोर्ट किया है।

उन्होंने बताया कि जब पढ़ाई के लिए वो जयपुर जाना चाहती थी तो उसने ही इस बात के लिए घरवालों को मनाया था। जयपुर के जिस कॉलेज में मोबाइल प्रतिबंधित था, वहां उसे उसकी फरमाइश पर 20 हजार रुपये का मोबाइल भी दिलाया।

पुरानी बातों को याद करते हुए विक्की अचानक भावुक हो गए और आर भारत के रिपोर्टर के सामने फूट-फूटकर रोने लगे। विधायक राजेश मिश्रा ने एक अखबार से बातचीत में कहा कि अजितेश उर्फ अभि उनके बेटे विक्की का दोस्त था।

हालांकि उसकी और विक्की की उम्र में काफी अंतर है। उन्होंने बताया कि उन्हें विक्की से अजितेश की दोस्ती की तो जानकारी थी, लेकिन अजितेश उनके घर पर भी अक्सर आता-जाता था, यह उन्हें अब पता लगा है। दरअसल अजितेश तभी उनके घर आता था, जब वह नहीं होते थे।

बेटी साक्षी के इस आरोप पर कि वह उसके साथ ज्यादा बात नहीं करते थे, उन्होंने कहा कि यह आरोप गलत है। बेटे और दोनों बेटियों से वह हमेशा दोस्ताना व्यवहार रखते थे। वह जब भी घर पहुंचते थे और कभी उन्हें कोई गुमसुम दिखता था तो वह हंसी-मजाक कर उसे बगैर हंसाए नहीं छोड़ते थे। हालांकि अब इन बातों का कोई मतलब नहीं है। जो होना था, हो चुका है। वह अब इस मसले पर ज्यादा कुछ नहीं कहना चाहते। अपने काम में व्यस्त होना चाहते हैं।

नेशनल

इसरो का ऐलान, अब 22 जुलाई को लॉन्च होगा चंद्रयान-2

Published

on

नई दिल्ली। भारत का चंद्रयान-2 मिशन एक बार फिर तैयार है प्रक्षेपण के लिए। इसरो ने अपने जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल मार्क-3 (जीएसएलवी मार्क-3) में आई तकनीकी खराबियों को ठीक कर लिया है। चंद्रयान-2 अब 22 जुलाई को दोपहर 2:43 बजे उड़ान भरेगा। दरअसल चन्द्रयान-2 सोमवार 15 जुलाई को उड़ान भरने वाला था मगर तकनीकी खराबी के चलते इसका लॉन्च रोक दिया गया था।

15 जुलाई को प्रक्षेपण टल जाने के बाद भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अधिकारियों ने लांच की संभावित तारीख 20 से 23 जुलाई के बीच बताई थी। एक अधिकारी ने बताया कि रॉकेट लांच की तारीफ पर विचार किया जा रहा है मगर अब आधिकारिक रूप से इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि चंद्रयान-2 अब 22 जुलाई को दोपहर 2:43 पर अंतरिक्ष में उड़ान भरेगा। इसरो के अधिकारियों ने पहले बताया था कि तकनीकी गड़बड़ियों को ठीक कर लिया गया है।

आपको बता दें कि राकेट को दूसरे चन्द्रमा मिशन चंद्रयान-2 को लेकर 15 जुलाई तड़के 2:51 पर उड़ान भरनी थी मगर उड़ान से एक घंटे पहले रॉकेट में हुई तकनीकी खराबी का पता लगने पर ये मिशन निरस्त कर दिया गया। इसरो ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। इसरो को प्रक्षेपण से एक घंटा पहले एक तकनीकी खराबी का पता चला। एहतियात के तौर पर चंद्रयान-2 के प्रक्षेपण को रोक लिया गया।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending