Connect with us

प्रादेशिक

पति ने महिला को दिया तीन तलाक, फिर तीन जेठों ने जबरन संबंध बनाकर चलती कार से फेंका

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मेरठ में रिश्तों को शर्मसार करने वाला सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां एक महिला को मामूली विवाद के बाद उसके पति ने तीन तलाक दे दिया।

इसके बाद तीन जेठों ने मिलकर महिला के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। पीड़ित महिला का नाम नाजिश है। नाजिश बुलंदशहर के गांव आसिफाबाद चंद्रपुरा की रहने वाली है।

6 महीने पहले उसका निकाह मेरठ में हुआ था। निकाह में 10 लाख रुपये खर्च किए गए थे। पीड़िता के मुताबिक 16 जून को मामूली बात पर घर में झगड़ा हो गया था जिससे नाराज पति ने उसे तीन तलाक दे दिया और घर से चला गया।

इसके बाद 18 जून को नव विवाहिता के तीन जेठों ने उसे अपनी हवस का शिकार बनाया और मारपीट कर चलती कार से   उसके गांव के बाहर फेंककर फरार हो गए।

पीड़ित परिवार ने 2 जुलाई को मामले की रिपोर्ट बुलंदशहर के गुलावठी कोतवाली में दर्ज कराई मगर पुलिस ने किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया। घटना स्थल जनपद मेरठ होने के कारण मुकदमे को जनपद मेरठ जांच के लिए भेज दिया है।

लड़की के परिजनों ने आरोप लगाया है कि पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर गंभीर नजर नहीं आ रही है। हालांकि पुलिस ने तीन तलाक और गैंगरेप की धाराओं में मामला दर्ज किया है।

प्रादेशिक

उन्नाव केसः पीड़िता के परिजनों को 25 लाख और घर देगी योगी सरकार

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद उसके परिजनों को मदद का ऐलान किया है। जानकारी के अनुसार योगी सरकार पीड़िता के परिवार को 25 लाख रुपये की मदद देगी। यह धनराशि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दी जाएगी।

उन्नाव के जिला अधिकारी देवेंद्र कुमार पांडे पीड़िता के परिजनों से मिलकर उन्हें चेक सौपेंगे। इसके अलावा सरकार की तरफ से परिवार को पीएम आवास योजना के तहत घर देने का भी ऐलान किया गया है।

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता को गुरुवार को जिंदा जलाने की कोशिश की गई थी, जिसमें पीड़िता 95 फीसदी तक झुलस गई थी। इसके बाद पीड़िता को लखनऊ के अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending