Connect with us

नेशनल

भारत में बनने जा रहा नया कानून, अब एक दिन में सिर्फ 70 लीटर पानी खर्च कर सकेंगे आप

Published

on

जयपुर। जल संकट को देखते हुए राजस्थान सरकार नया कानून बनाने की तैयारी कर रही है। इस कानून के मुताबिक जल संरक्षण को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक व्यक्ति को रोजाना 70 लीटर पानी ही खर्च कर सकेगा।

 

 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जो भी इस नए कानून का उल्लघंन करेगा उसे डेढ़ साल की सजा और 1 लाख का जुर्माना भरना होगा। जल संसाधन विभाग (डब्लूआरडी) के एक अधिकारी ने बताया कि राजस्थान जल बिल का ड्राफ्ट तैयार हो चुका है और अभी विचाराधीन है।

विधानसभा में पेश होने से पहले विधेयक जल्द ही मंजूरी के लिए कैबिनेट के पास जाएगा। बता दें कि अगर ये कानून लागू हो जाता है तो पानी पर ऐसा कानून बनाने वाला राजस्थान देश का पहला राज्य बन जाएगा।

ड्राफ्ट बिल के अनुसार, प्रत्येक व्यक्ति को एक स्वस्थ और गरिमापूर्ण जीवन जीने के लिए बुनियादी पानी उपलब्ध कराने का मौलिक अधिकार है और किसी भी स्थिति में भूजल या सतही जल के लिए बुनियादी पानी की मात्रा 70 लीटर प्रति व्यक्ति से कम नहीं होगी। कानून ये भी सुनिश्चित करेगा कि राज्य सरकार द्वारा निर्धारित मानदंडों के अनुसार लोगों को गुणवत्तापूर्ण जल मिले।

हिन्दुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, कानून के तहत प्रत्येक ब्लॉक और नगरपालिका में एक शिकायत निवारण अधिकारी की नियुक्ति भी की जाएगी। जहां लोग पानी की कमी की शिकायत दर्ज करवा सकेंगे। शिकायत निवारण अधिकारी की सहायता के लिए हर जिले में एक ‘न्याय मित्र’ होगा।

नेशनल

उन्नाव में गैंगरेप पीड़िता को पेट्रोल डालकर जलाया, हालत गंभीर

Published

on

उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता को गुरुवार सुबह छह युवकों ने पेट्रोल डालकर जला दिया। पिता की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां पीड़िता की हालत गंभीर देख कानपुर हैलट रेफर कर दिया गया। कानपुर के बाद अब पीड़िता को लखनऊ रेफर कर दिया गया है।

पीड़िता ने बयान दिया है कि गुरुवार सुबह चार बजे वह रायबरेली जाने के लिए ट्रेन पकड़ने बैसवारा बिहार रेलवे स्टेशन जा रही थी। गौरा मोड़ पर गांव के हरिशंकर त्रिवेदी, किशोर शुभम, शिवम, उमेश ने घेर लिया और सिर पर डंडे से और गले पर चाकू से वार किया। वह चक्कर आने से गिरी तो पेट्रोल डालकर आग लगा दी। शोर मचाने पर भीड़ को आता देख वह भाग निकले।

पीड़िता ने बताया कि पूर्व में आरोपियों ने उसके साथ दुष्कर्म किया था। उधर, घटना की जानकारी मिलने पर डीएम देवेंद्र पांडे, एसपी विक्रांत वीर समेत कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। पीड़िता की हालत गंभीर देख कानपुर हैलट रेफर कर दिया गया। इसके बाद उसे लखनऊ सीविल हॉस्पिटल भेजा गया है।

बताया जा रहा है कि हमलावरों में से तीन युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। उधर, घटना के बाद पूरे जिले में हड़कंप मचा गया है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending