Connect with us

प्रादेशिक

लखनऊ में संपन्न हुई वेब मीडिया एसोसिएशन की बैठक, लिए गए कई महत्वपूर्ण निर्णय

Published

on

लखनऊ। यूपी के साथ-साथ देशभर में वेब मीडिया का प्रभाव व वेब न्यूज़ पोर्टल की संख्या तेजी से बढ़ रही है, जो मोबाइल के माध्यम से लाखों लोगों को होने वाली घटनाओं व समाचार से हर पल जोड़े रखती है।

 

उत्तर प्रदेश में वेब नीति- 2016 जो पूरी तरह निष्क्रिय पड़ी है। शासन से वार्ता करके नीति को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित किया जाए। इस आशय को लेकर आज लखनऊ में एक महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया गया।

 

वेब मीडिया एसोसिएशन (WMA) की उत्तर प्रदेश इकाई की लखनऊ में हुई इस बैठक में यूपी में गंभीर पत्रकारों द्वारा चलाए जा रहे, वेब न्यूज़ पोर्टल को एसोसिएशन का पूरा साथ मिले‌ इस पर भी व्यापक चर्चा हुई। आज की बैठक में तय हुआ कि वेब मीडिया एसोसिएशन से नए सदस्यों को जोड़ने का प्रदेशभर में जल्द एक अभियान चलाया जाएगा।

इस बैठक में WMA के मुख्य संरक्षक चन्द़सेन वर्मा, राष्ट़ीय महासचिव मो कामरान, इन्द़ेश रसतोगी, राष्ट़ीय उपाध्यक्ष जेoपीo शुक्ल, WMA (UP) के अध्यक्ष राजेंद्र गौतम, उपाध्यक्ष शाश्वत तिवारी, श्रीधर अग्निहोत्री, अमिताभ त्रिवेेदी, काजिम जहीर, कोषाध्यक्ष सोनिका श्रीवास्तव एवं कार्यकारिणी सदस्य योगेश श्रीवास्तव उपस्थित रहे।

प्रादेशिक

अध्यक्ष पद से हटाए गए मनोज तिवारी, आदेश गुप्ता को मिली दिल्ली बीजेपी की कमान

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने दिल्ली में बड़ा बदलाव किया है। पार्टी ने मनोज तिवारी को अध्यक्ष पद से हटाकर अब प्रदेश की कमान आदेश गुप्ता को सौंप दी है।

इसके साथ छत्तीसगढ़ का अध्यक्ष विष्णुदेव साय को नियुक्त किया। मनोज तिवारी को पद से क्यों हटाया गया इसके पीछे की वजह फिलहाल साफ नहीं है।

बता दें कि आदेश गुप्ता एक साल पहले तक नॉर्थ एमसीडी के मेयर रह चुके हैं। माना जा रहा है कि व्यापारी वर्ग को लुभाने के लिए बीजेपी ने यह कदम उठाया है। आदेश को जमीन से जुड़ा हुआ नेता माना जाता है।

एक समय वह ट्यूशन पढ़ाकर अपना घर चलाते थे। वो पार्षद रह चुके हैं। इसके अलावा नॉर्थ दिल्ली के मेयर भी रह चुके हैं। यानी दिल्ली की सियासत में उनका तजुर्बा काफी नीचे तक है।

हालांकि, आदेश गुप्ता मनोज तिवारी की तरह चर्चित चेहरा नहीं हैं। आदेश गुप्ता वेस्ट पटेल नगर से पार्षद रहे हैं। इसके साथ ही NDMC स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य भी रहे हैं। दिल्ली बीजेपी में काफी लंबे समय बाद बदलाव किया गया है।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending