Connect with us

नेशनल

ज्योतिष ने की भविष्यवाणी अगर 23 की जगह 24 को आए नतीजे को इस पार्टी को होगा बंपर फायदा

Published

on

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम चरण के मतदान आज यानि रविवार को देश के 15 राज्यों की 59 सीटों पर हो रहे हैं। अंतिम चरण के चुनाव के बाद 23 तारीख चुनाव रिजल्ट घोषित होने हैं लेकिन उससे पहले राजनीतिक दल द्वारा सियासी जोड़तोड़ की कवायद शुरू कर दी गई है।

इसी कड़ी में तेलुगु देशम पार्टी प्रमुख और आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री ने शनिवार को तीसरा मोर्चा तैयार करने के लिए विपक्षी दलों के नेताओं से मुलाकात शुरू कर दी।

अगले पांच सालों के लिए सत्ता किसे मिलेगी इसके तमाम कयास लगाए जा रहे हैं। लोगों के मन में एक ही सवाल है कि क्या नरेंद्र मोदी दोबारा केंद्र की सत्ता में आएंगे या 2019 में बदलाव आएगा।

इन तमाम आकलनों के बीच अंक ज्योतिषीय गणना में नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी दोनों के लिए सकारात्मक सकारात्मक संकेत दिखा रहा है।

ज्योतिषाचार्य डॉ अरुणेश कुमार शर्मा के अनुसार 23 मई 2019 को शुरू हो रही मतगणना भाग्यांक के आधार पर नरेंद्र मोदी के पक्ष में है। मतगणना दिनांक 23 का पूर्णांक 5 है। अंक 5 नरेंद्र मोदी की जन्मतिथि 17-09-1950 के अनुसार, उनका भाग्यांक है।

ऐसे में मतगणना 23 को शुरू होकर रात 12 बजे तक पूर्ण हो जाती है, तो निश्चित ही नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए और भाजपा को फायदा होगा। कारण, नमो का जन्मांक 8 और भाग्यांक 5 है।

इसके इतर मतगणना लंबी चलती है। वह 24 तारीख में प्रवेश करती है, तो यह राहुल गांधी के लिए सकारात्मक संकेतों की झड़ी लगा सकती है। कारण, राहुल गांधी की जन्मतिथि 19-06-1970 है। उनका जन्मांक 1 और भाग्यांक 6 है। 24 तारीख का पूर्णांक 6 बनता है। 6 अंक रागा का भाग्यांक है। ऐसे में अंकों के आंकलन से कहा जा सकता है कि मतगणना की शुरुआत नमो के पक्ष में रह सकती है। तो प्रक्रियागत लंबी अवधि रागा को लाभ पहुंचा सकती है।

यहां यह भी स्पष्ट कर दें कि मतगणना का आरंभ धनु के चंद्रमा में होगा. धनु में चंद्रमा का शनि से संयोग भ्रमपूर्ण स्थिति का संकेतक है। ज्योतिषाचार्य डॉ अरुणेश कुमार शर्मा का कहना है कि ऐसे में परिणाम भी भ्रमपूर्ण और अस्पष्ट आ सकते हैं, अर्थात् किसी भी एक दल को पूर्ण बहुमत मिलने के आसार कम ही हैं।

नेशनल

अरुण जेटली के निधन पर अमित शाह ने जताया दुख, कहा-ये मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है

Published

on

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार को निधन हो गया। दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में 12 बजकर 5 मिनट पर उन्होंने अंतिम सांस ली।

जेटली के निधन से भाजपा कार्यकर्ताओं समेत देशभर में शोक की लहर है। उनके निधन पर भाजपा के साथ ही विपक्षी दलों के नेताओं ने गहरा शोक जताया है।

गृहमंत्री अमित शाह ने भी जेटली के निधन पर दुख जताया है। शाह ने ट्विटर पर जताते हुए कहा कि अरुण जेटली के निधन से अत्यंत दुःखी हूं। जेटली का जाना मेरे लिये एक व्यक्तिगत क्षति है।

उन्होंने कहा कि उनके रूप में मैंने न सिर्फ संगठन का एक वरिष्ठ नेता खोया है बल्कि परिवार का एक ऐसा अभिन्न सदस्य भी खोया है जिनका साथ और मार्गदर्शन मुझे वर्षों तक प्राप्त होता रहा।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending