Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

हॉट दिखने वाली ये लड़की असल जिंदगी में है बेहद खतरनाक, डिटेल जानकर रह जाएंगे दंग

Published

on

नई दिल्ली। भारत में महिला सशक्तिकरण को लेकर सरकार द्वारा कई तरह के कदम उठाए जा रहे हैं। भारत की तरह ही इजराइल भी अपनी देश की महिलाओं को सशक्त करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है।

यह देश महिलाओं को निडर और साहसी बनाने के लिए सैन्य ट्रेनिंग देता है। जहां पुरुषों के साथ महिला कंधे से कंधा मिलकर अपने देश को सेवा प्रदान करती है।

इजराइल की ओरिन जूली ने भी इसी तरह की सैन्य ट्रेनिंग ली है। ओरियन इन दिनों अपने बयान को लेकर चर्चा का विषय बन गई है। जूली का मानना है कि अमेरिका के आर्म्स को विश्व में सबसे बेहतरीन हैं। उनका कहना है कि इजरायल में भी ऐसा ही कानून होना चाहिए।

इजरायल की पूर्व फौजी ओरिन जूली को दुनिया में क्वीन ऑफ गन्स के नाम से जाना जाता है। वे 2012 में इजरायल की सेना में भर्ती हुई थीं। जूली की इच्छा थी कि वो देश को अपनी सेवा प्रदान करें, देश में होने वाले सैन्य अभियानों का हिस्सा बने।

जूली को कहना है कि उन्हें हथियारों से बेहद लगाव है और उनके साथ बहुत सुकून मिलता है। साथ ही वे खुद की नुमाइश हथियारों के साथ करती रहती है।

हथियारों के साथ वे खुद को बेहद ताकतवर महसूस करती हैं। उन्हें लगता है कि हर चीज उनके नियंत्रण में है। जिस कारण उन्हें सोशल मीडिया पर खूब सराहा जा रहा है।

अन्तर्राष्ट्रीय

विदेश जाकर इलाज करा सकेंगे नवाज शरीफ, लाहौर हाई कोर्ट ने दी इजाजत

Published

on

नई दिल्ली। लंबे समय से बीमार पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अब विदेश जाकर इलाज करा सकेंगे। लाहौर हाई कोर्ट ने उन्हें उपचार के लिए चार सप्ताह के लिए विदेश यात्रा की अनुमति दे दी है और कहा कि यह अवधि चिकित्सा रिपोटरें के आधार पर बढ़ाई जा सकती है।

डॉन न्यूज के अनुसार, मौजूदा सरकार को झटका देते हुए जिसने शरीफ की यात्रा के लिए क्षतिपूर्ति बांड भरने की शर्त रखी थी, शनिवार को अदालत ने उनका नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) से हटाने का आदेश दिया।

दो न्यायाधीशों की पीठ ने सुबह 11 बजे याचिका पर सुनवाई शुरू की और आखिरकार शाम 6 बजे के करीब फैसला सुनाया।अदालत के आदेश में कहा गया, “शरीफ को चार सप्ताह के लिए अंतरिम व्यवस्था के रूप में विदेश यात्रा करने की एक बार की अनुमति दी गई है और डॉक्टरों द्वारा यह प्रमाणित करने पर उनके स्वास्थ्य में सुधार हुआ है और वह पाकिस्तान आने के लिए फिट हैं, वह लौट आएंगे।”

पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने इस फैसले को स्वीकार किया और एक वचन पत्र पर हस्ताक्षर किए जिसमें कहा गया कि वह चार सप्ताह के भीतर या डॉक्टरों द्वारा शरीफ का स्वास्थ्य ठीक होना और उनके पाकिस्तान लौटने के लिए फिट होना प्रमाणित किए जाने पर अपने भाई की वापसी सुनिश्चित करेंगे।

शहबाज शरीफ ने कहा कि एक एयर एम्बुलेंस नवाज शरीफ को ले जाएगी। नवाज के सोमवार को लंदन जाने की संभावना है।

फैसले पर जवाब देते हुए, सत्तारूढ़ पीटीआई के सीनेटर फैसल जावेद ने कहा कि यह फैसला किया जाएगा कि लिखित आदेश उपलब्ध होने के बाद अदालत के फैसले पर अपील किया जाए या नहीं।

सूचना मामलों में प्रधानमंत्री की विशेष सहायक फिरदौस आशिक एवान ने जियो न्यूज से कहा कि सरकार ने हमेशा अदालती फैसलों का सम्मान किया है। हालांकि, उन्होंने जावेद के इस रुख को दोहराया कि अपील पर फैसला लेना बाकी है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending