Connect with us

प्रादेशिक

5 लोगों ने पति के सामने किया पत्नी से गैंगरेप, वीडियो बनाकर किया वायरल

Published

on

जयपुर। राजस्थान के अलवर में इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां मोटरसाइकिल से जा रहे दंपत्ति को 5 अज्ञात लोगों ने बीच रास्ते में रोककर पति के सामने पत्नी का गैंगरेप किया।

घटना 26 अप्रैल शाम 3 बजे की है। पीड़िता का कहना है कि वह और उनके पति ललवाड़ी गांव से तालवृक्ष जा रहे थे। रास्ते में पांच बदमाशों ने उनकी मोटरसाइकिल रुकवा ली और घटना को अंजाम दिया।

हैरान करने वाली बात ये है कि आरोपियों द्वारा घटना का वीडियो भी बनाया गया और बाद में इसे वायरल भी कर दिया गया। इस मामले में पीड़िता ने कहा है कि आरोपियों को फांसी की सजा मिलनी चाहिए।

पीड़िता ने कहा- ‘उन लोगों ने मेरे गले में हाथ लगाकर घसीटा, हमें टॉर्चर किया और कपड़े फाड़ दिए। इसके बाद रेप किया। उन लोगों को फांसी होनी चाहिए।’

उधर, राजस्थान पुलिस महानिदेशक कपिल गर्ग ने मंगलवार को कहा कि 26 अप्रैल को हुए गैंग रेप के मामले के पांच आरोपियों में से 3 दो गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि बाकी के दो आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

प्रादेशिक

अरविंद केजरीवाल का बड़ा फैसला, 7 दिनों के लिए सील किए गए दिल्ली के बॉर्डर

Published

on

नई दिल्ली। केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के सभी बॉर्डर अगले एक हफ्ते के लिए सील करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को इसकी घोषणा की। इसके साथ ही अब दिल्ली के बाजारों में सम-विषम सिस्टम भी खत्म कर दिया गया है। यानी अब सभी बाजारों में सारी दुकानें एक साथ खोली जा सकती हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “5 जून तक हम दिल्ली के अस्पतालों में 9500 बेड का इंतजाम कर लेंगे। यदि दिल्ली का कोई भी व्यक्ति कोरोना से पीड़ित है और उसे अस्पताल में भर्ती होना है तो उसके लिए बेड उपलब्ध है। लेकिन अगर बॉर्डर खोल दिए गए तो यह सभी बेड 2 दिन के अंदर भर जाएंगे।”

इस विषय पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली वालों से उनकी राय मांगी है। मुख्यमंत्री ने कहा, “दल्ली पूरे देश की है और हम यहां आने से किसी को रोक नहीं सकते। दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाएं पूरे देश में सबसे बेहतर हैं और यहां सरकारी अस्पतालों में सभी तरह का इलाज मुफ्त है। लेकिन कुछ सुझाव मिले हैं जिनके मुताबिक थोड़े समय के लिए दिल्ली के बॉर्डर सील कर दिए जाएं ताकि दिल्ली के अस्पतालों में दिल्ली में रह रहे लोगों का उपचार किया जा सके।”

इस विषय पर मुख्यमंत्री ने दिल्ली के लोगों से राय मांगी है। मुख्यमंत्री ने इसके लिए नंबर जारी किया है। इस नंबर पर व्हाट्सएप के जरिए लोग अपनी राय भेज सकते हैं या फिर 1031 नंबर पर अपने विचार रिकॉर्ड करा सकते हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “दिल्ली के बॉर्डर सील होने की स्थिति में आवश्यक सेवाओं में लगे व्यक्ति एवं सरकारी कर्मचारी अपना आई कार्ड दिखाकर दिल्ली में प्रवेश कर सकते हैं। इस दौरान आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही भी सुचारु रुप से चलती रहेगी।”

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending