Connect with us

प्रादेशिक

ऑटो ड्राइवर ने खरीदा 2 करोड़ का बंगला, छापेमारी में मिला कुछ ऐसा, देखकर उड़े अधिकारियों के होश

Published

on

नई दिल्ली। बेंगलुरु में एक ऐसा मामला सामने आया है जिससे इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के भी होश उड़ गए हैं। यहां एक ऑटो ड्राइवर के पास आयकर विभाग के अधिकारियों को बड़ी संपत्ति मिली है।

इस ऑटो ड्राइवर के पास लाखों नहीं बल्कि करोड़ों की संपत्ति मिली है। इस ऑटो की संपत्ति का खुलासा तब हुआ जब इसने 2 करोड़ का विला कैश पेमेंट करके खरीदा।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, 2 करोड़ का विला खरीदने वाले शख्स का नाम नलुरल्ली सुब्रमणी है। 2 करोड़ कैश देकर विला खरीदने पर सुब्रमणी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की नजर में आ गए।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से नलुरल्ली सुब्रमणी को एक नोटिस भेजा गया, जिसका जवाब न मिलने पर 16 अप्रैल को आईटी डिपार्टमेंट ने उनके विला पर छापा मारा दिया।

पूछताछ के दौरान सुब्रमणी ने अपनी संपत्ति को लेकर जो तर्क दिया वो डिपार्टमेंट के अधिकारियों को रास नहीं आ रहा है। उसका कहना है कि एक अमेरिकी महिला के कारण उसकी किस्मत बदल गई।

उसने महिला को कभी विला किराए पर दिलवाया था, लेकिन जब वो महिला विला छोड़कर गई तो उसने करोड़ों की दौलत उसके नाम कर दी। इसके बाद उसने ऑटो चलाना छोड़ दिया।

सुब्रमणी का कहना है कि उसे जबरदस्ती इस मामले में फंसाया जा रहा है। वहीं कुछ रिपोर्ट्स में कुछ बड़े नेताओं से ड्राइवर के लिंक होने की खबर भी सामने आ रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक छापेमारी में कुछ डॉक्यूमेंट्स और 7.9 करोड़ कैश भी मिले हैं। जिसके बाद प्रोहिबिशन ऑफ बेनामी प्रॉपर्टी ट्रांजैक्शन के तहत जट्टी इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड को नोटिस भेजा गया है।

बताया जाता है कि ऑटो रिक्शा ड्राइवर सुब्रमणी अपना अलग से फाइनेंस बिजनेस चलाता था। वह ऑटो रिक्शा ड्राइवर्स को 10,000 तक के लोन बहुत ऊंचे ब्याज दरों पर देता था।

प्रादेशिक

सीएम योगी ने शहीदों के परिवार को सरकारी नौकरी, पेंशन, 1 करोड़ का मुआवजा देने का किया एलान

Published

on

कानपुर। एनकाउंटर में 8 पुलिसकर्मियों की शहादत पर सीएम योगी ने दुःख जताया है। योगी ने कहा कि कानपुर में ‘कर्तव्य पथ’ पर अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले 8 पुलिसकर्मियों को भावभीनी श्रद्धांजलि।शहीद पुलिसकर्मियों ने जिस अपरिमित साहस व अद्भुत कर्तव्यनिष्ठा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन किया, उ.प्र. उसे कभी भूलेगा नहीं। उनका यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। इसके साथ ही योगी ने शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को सरकारी नौकरी, असाधारण पेंशन और एक करोड़ मुआवजा देने की घोषणा की है।

बता दें कि कानपुर से सटे चौबेपुर के बिकरु गांव में शुक्रवार को तड़के पुलिस और विकास दुबे गिरोह के बीच हुए एनकाउंटर में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। बताया जा रहा है कि विकास दुबे के पास एके-47 और अडवांस हथियार थे। मामले की जांच के लिए एसटीएफ गठित हुई है। यूपी पुलिस ने विकास दुबे का सुराग देने वाले को 50 हजार रुपये के इनाम का ऐलान भी किया है।

डीजीपी हितेश चन्द्र अवस्थी ने बताया कि विकास दुबे कानपुर का हिस्ट्रीशीटर भी हैं इसके ऊपर कई मुकदमें दर्ज हैं। इस पर दबिश डालने के लिए पुलिस बिकरू गांव पहुंची जहां पर पुलिस को रोकने के लिए इन्होंने पहले से ही जेसीबी वगैरह लगा कर रास्ता रोक रखा था। पुलिस पार्टी के पहुंचते ही बदमाशों ने छतों से पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें पुलिस के 8 जवान शहीद हो गए।

#CMYOGI #UTTARPRADESH #VIKASDUBEY #STF

Continue Reading

Trending