Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

भारत के आगे झुका चीन, मसूद अजहर को UN ने ग्लोबल आतंकी किया घोषित

Published

on

इतने समय के बाद आखिर भारत को उसकी म्हणत का फल मिल ही गया। मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कर दिया गया। लम्बे समय से भारत इस कोशिश में था कि आतंकवादी संगठन जैश-ऐ-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया जा सके लेकिन हर बार चीन इस पर अड़ंगा लगा देता था। लेकिन मसऊद पर भारत को शुरूआती नाकामियों के बाद तब सफलता मिली जब बुधवार को सयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने वैश्विक आतंकवादी घोषित कर दिया है।

बता दें, इससे पहले चीन ने मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने को लेकर कई बार रोक लगा चुका है जिसकी वजह से उसे वैश्विक आतंकवादी नहीं घोषित किया जा सका था।

संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तानी आतंकी मसूद अजहर के अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित होने पर चीन के विदेश मंत्री वांग यी की तरफ से बयान आया है, ‘कि उसे मसूद अजहर को आतंकी घोषित किए जाने के प्रस्ताव में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं लगा और इसके बाद उसने जैश ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने पर लगी रोक हटा ली है। चीन के विदेश मंत्रालय की तरफ से यह बयान जारी किया गया है।’

बरहाल, संयुक्त राष्ट्र ने मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया जाना अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत के लिए यह बड़ी जीत समझी जा रही है। क्यूंकि इस मस्लेड पर चीन जैसे देश को भारत ने अपने दबाव के आगे झुकने के लिए मजबूर किया है। इस बीच मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने पर संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत सैयद अकबरुद्दीन ने अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रासं सहित उन सभी देशों का धन्यवाद किया है जिन्होंने इस प्रस्ताव का समर्थन किया।

अन्तर्राष्ट्रीय

हर साल इस जगह इकठ्ठा होते हैं 70 हजार सांप, मेला देखने दूर-दूर से पहुंचते हैं लोग

Published

on

नई दिल्ली। कनाडा में एक ऐसी जगह है जहां हर साल 70 हजार सांप इकठ्ठा होते हैं। सुनकर आप हैरान रह गए होंगे लेकिन बात सौ फीसदी सही है। इस जगह का नाम मैनिटोबा है।

यहां हजारों की संख्या में सांप प्रजनन के लिए इकठ्ठा होते हैं। इसे सांपो का सबसे बड़ा मेला भी कहा जाता है। नर और मादा सांप यहां प्रजनन के लिए एक साथ रहते हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इनमें गार्टर सांपों की संख्या सबसे ज्यादा होती है। इस मेले को देखने के लिए कनाडा के नारसीस स्नेक डेंस में दूर-दूर से लोग पहुंचते हैं।

गर्मियां आने पर यहां से सबसे पहले सांपों के बच्चे बाहर निकलते हैं। सांपों के बीच संबंध वसंत के दौरान बनते हैं। नारसीस स्नेक डेंस की देख-रेख कनाडा की वाइल्ड लाइफ मैनेजमेंट करती है।

स्नेक डेंस नारसीस नाम की जगह से करीब 6 किमी दूर है। खबरों के मुताबिक, हर साल कई हजार सांपों की मौत भी यहां हो जाती है।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending