Connect with us

मुख्य समाचार

‘आतंकवाद तो त्याग, तपस्या और बलिदान का प्रतीक होता है’-भाजपा नेता राकेश सिंह

Published

on

लोकसभा चुनाव के दौरान नेताओं ने बद्द्जुबानी और विवादित बयान देने का जैसे सिलसिला ही बना लिया है। विवादित बयानों की झड़ी में किसी भी पार्टी का नेता शायद ही पीछे हो।

हाल ही केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बेगूसराय के मंच पर मुस्लिम समुदाय कॉल लेकर विवादित बयान दिया था, अब भारतीय जनता पार्टी के मध्यप्रदेश के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने विवादित वबयान दे दिया है। राकेश सिंह ने बुधवार को जनसभा रैली संबोधित करते हुए आतंकवाद को त्याग, तपस्या और बलिदान का प्रतीक बता दिया। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो गया, जिसमें उन्होंने यह बयान दिया। इस वीडियो को न्यूज एजेंसी एएनआई ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है।

एमपी के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह का कहना है कि, ”भगवा कभी आतंकवाद नहीं होता, भगवाधारण करने वाला कभी आतंकवादी नहीं होता, आतंकवाद तो त्याग, तपस्या और बलिदान का प्रतीक होता है।” सिंह ने आगे कहा, ”और जब चुनाव का समय आता है तब कांग्रेस के नेता और ये दिग्विजय सिंह जगह-जगह पर इसी भगवा पर माथा टेकते हुए दिखाई देते हैं।” राकेश सिंह मध्यप्रदेश के जबलपुर से बीजेपी उम्मीदवार हैं।

आपको बता दें, दिल्ली से बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष व उत्तर पूर्वी दिल्ली के उम्मीदवार मनोज तिवारी जोरशोर से चुनाव प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। चुनावी माहौल में विपक्षों पर हमला बोलने से वह बिल्कुल भी नहीं चूक रहे। बुधवार को मनोज तिवारी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ बयान दिया है। उन्होंने अरविंद केजरीवाल को टैग करते हुए लिखा, ”टुकड़े टुकड़े गैंग के प्रचार के लिए तैयार, देश के गद्दारों का समर्थन करने के लिए बेकरार।”

प्रादेशिक

उन्नाव केसः पीड़िता के परिजनों को 25 लाख और घर देगी योगी सरकार

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद उसके परिजनों को मदद का ऐलान किया है। जानकारी के अनुसार योगी सरकार पीड़िता के परिवार को 25 लाख रुपये की मदद देगी। यह धनराशि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दी जाएगी।

उन्नाव के जिला अधिकारी देवेंद्र कुमार पांडे पीड़िता के परिजनों से मिलकर उन्हें चेक सौपेंगे। इसके अलावा सरकार की तरफ से परिवार को पीएम आवास योजना के तहत घर देने का भी ऐलान किया गया है।

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता को गुरुवार को जिंदा जलाने की कोशिश की गई थी, जिसमें पीड़िता 95 फीसदी तक झुलस गई थी। इसके बाद पीड़िता को लखनऊ के अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending