Connect with us

नेशनल

कांग्रेस ने हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ते हुए एक महिला को प्रताड़ित किया: साध्वी प्रज्ञा

Published

on

भोपाल। मध्य प्रदेश की भोपाल संसदीय सीट से भाजपा की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने गुरुवार को कांग्रेस पर हिंदू विरोधी होने का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस ने हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ते हुए एक महिला को प्रताड़ित किया। भोपाल संसदीय सीट से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा, “कांग्रेस ने हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ा है, हिंदू आतंकवाद बताया, एक महिला को प्रताड़ित किया, दिग्विजय सिंह सबूत मांग रहे हैं तो उन्हें प्रताड़ना के सबूत दिए जाएंगे।” उन्होंने कहा कि वह इस मुद्दे को लेकर जनता के बीच जाएंगी और प्रताड़ना के सबूत भी देंगी।

मालेगांव बम विस्फोट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ने कहा, “एक महिला को किस तरह से प्रताड़ित किया गया, कानून का किस तरह से उल्लंघन किया गया, यह सब षड्यंत्रपूर्वक हुआ है। इन मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाऊंगी।” साध्वी ने अपने साथ किए गए बर्ताव का जिक्र करते हुए कहा, “मुझे जिस तरह से प्रताड़ित किया गया, उस तरह तो गुलामी के दौर में भी प्रताड़ित नहीं किया गया होगा। अब मैं कैसे यह भरोसा कर लूं कि आने वाले दिनों में किसी अन्य महिला के साथ ऐसा नहीं होगा।”

प्रज्ञा से जब संवाददाता ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का हवाला देते हुए पूछा कि सिंह प्रताड़ना के सबूत मांग रहे हैं तो उन्होंने कहा, “यह अच्छी बात है कि वह (दिग्विजय) स्वयं यह कह रहे हैं, सबूत भी उन्हें मिल जाएंगे, निश्चित रूप से मिलेंगे। बिना प्रमाण के मैं कोई बात नहीं करती। उन्होंने (कांग्रेस) अबतक जो गैरकानूनी कार्य और षड्यंत्र किए हैं, उनका प्रत्यक्ष प्रमाण मैं हूं।” भाजपा ने भोपाल संसदीय सीट से कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह के खिलाफ साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को मैदान में उतारा है। साध्वी पर मालेगांव बम विस्फोट मामले में शामिल होने का आरोप है।

नेशनल

उन्नाव गैंगरेप: पीड़िता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट देखकर पुलिस भी उलझन में

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उन्नाव में जलाकर मार दी गई पीड़िता के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हैरान कर देने वाला खुलासा हुआ है। पीड़िता ने मौत से पहले मजिस्ट्रेट को जो बयान दिया था उसमें उसने लाठी से मारने और चाकू पर गले से वार करने की बात कही थी जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण जलना बताया गया है। उसके शरीर पर चोट के किसी तरह के निशान नहीं हैं। सूत्रों की मानें तो पीड़िता के बयान और पोस्टमार्टम रिपोर्ट दोनों ने पुलिस को उलझा कर रख दिया है। मामले की जांच कर रही पुलिस के समक्ष एक अन्य युवक भी निकल कर सामने आ रहा है।

दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में पीड़िता की मौत होने पर पोस्टमार्टम करवाया गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट पहले सफदरगंज थाने और उसके बाद दिल्ली एसपी के पास भेजी गई है। मामले की जांच पड़ताल में देरी न होने पाए इसके लिए एसपी ने विशेष वाहक को रिपोर्ट लाने के लिए दिल्ली भेजा है। रिपोर्ट आने के बाद अन्य साक्ष्यों पर मामले की विवेचना कर रहे इंस्पेक्टर से जांच पड़ताल की जाएगी। उसके बाद ही मामले की निष्पक्ष जांच हो सकेगी।

एसपी से गठित टीम मामले की जांच में जुटी हुई है। सर्विलांस की मदद से 5 दिसंबर की सुबह घटनास्थल पर मौजूद मोबाइल फोन की पड़ताल की है। अलसुबह क्षेत्रों के जिन मोबाइल नंबरों पर बातचीत की गई है, पुलिस ने उनकी कॉल डिटेल खंगाल ली है। उसमें एक अन्य युवक ने आरोपित से कई बार बातचीत की है। उसी आधार पर पुलिस युवक को बार-बार पूछताछ के लिए हिरासत में ले रही है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending