Connect with us

खेल-कूद

हार से गुस्साए कोहली ने मैच रेफरी के कमरे में जाकर जो किया वो हैरान कर देने वाला है!

Published

on

नई दिल्ली। आईपीएल 2019 का सातवें मैच में मुंबई इंडियंस और रॉयल चैंलेंजर बेंगलोर जैसी दो बड़ी टीम आमने-सामने थीं। मुकाबला भी उम्मीद के मुताबिक ही हुआ यानि एकदम टक्कर का।

इस मुकाबले को मुंबई इंडियंस ने जीत लिया लेकिन अगर अंपायर से एक गलती न हुई होती तो खेल का नतीजा कुछ और हो सकता था। पहले मुंबई ने बैटिंग की और 187 रन बना लिए।

जवाब में बेंगलोर की तरफ से विराट कोहली और एबी डिविलियर्स की पारियों से टीम जीत के करीब पहुंच गई। लेकिन मलिंगा के अंतिम ओवर में मैच पलट गया और मुंबई इंडियंस 6 रनों से जीत गई।

अंतिम ओवर के आखिरी गेंद में अंपायर अगर अपना काम ठीक ढंग से किए होते तो यह मैच आरसीबी जीत सकता था। दरअसल मलिंगा की आखिरी गेंद नो बॉल थी जिसपर अंपायर ने ध्यान नहीं दिया बाद में जब रिप्ले देखा गया तब तक देर हो चुकी थी। अंपायर की ये गलती देखकर आरसीबी के कप्तान विराट कोहली तमतमा गए।

कोहली ने प्रजेंटेशन सेरेमनी में कहा- हम लोग आईपीएल लेवल पर खेल रहे हैं। कोई क्लब क्रिकेट नहीं हो रही है। इस तरह की गलतियां खेल के लिए सही नहीं हैं। ये एक इंच की नो-बॉल थी।

अंपायरों को फील्ड पर खड़े होकर और तेज और ध्यान रखने की जरूरत है।” कोहली की इन बातों को खूब समर्थन मिल रहा है। पोस्ट मैच सेरेमनी में अपना गुस्सा जाहिर करने के अलावा विराट कोहली के बारे में एक बात और सामने आई है।

टाइम्स नाउ की एक रिपोर्ट के मुताबिक विराट कोहली ने मैच रैफरी मनु नैय्यर पर चिल्लाते हुए कहा, “अंपायर की इस तरह की गलती पर अगर कोई एक्शन नहीं लिया जा सकता है तो मुझे भी परवाह नहीं होगी अगर मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट के तहत मुझ पर जुर्माना भी लग जाता है तो। ये कोई तरीका नहीं है अंपायरिंग का।”

खेल-कूद

श्रीसंत से आजीवन प्रतिबंधन हटा, इस दिन से खेल सकेंगे क्रिकेट

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने क्रिकेटर एस. श्रीसंत को बड़ी राहत दी है। बीसीसीआई ने श्रीसंत पर लगे आजीवन प्रतिबंध को हटकर उनकी सजा 7 साल कर दी है।

इसी के साथ 13 सितंबर 2020 को श्रीसंत पर लगा बैन खत्म हो जाएगा। बीसीसीआई की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि श्रीसंत पर लगे प्रतिबंध को घटाकर सात साल करने का फैसला किया गया है।

गौरतलब है कि आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग में नाम आने पर श्रीसंत पर बीसीसीआई ने आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। 13 सितंबर 2013 को बोर्ड द्वारा आजीवन बैन लगाया था।

इससे पहले मार्च 2019 को श्रीसंत पर सुप्रीम कोर्ट ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में आजीवन प्रतिबंध हटा दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि बीसीसीआई श्रीसंत पर अपने लगाए प्रतिबंध पर फिर से विचार करे. लाइफटाइम बैन ज्यादा है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending