Connect with us

नेशनल

लोकसभा चुनाव 2019: EVM से नहीं बैलेट पेपर से होगी वोटिंग, वजह है चौंका देने वाली!

Published

on

नई दिल्ली। 11 अप्रैल को लोकसभा के प्रथम चरण के चुनाव से पहले देश पूरी तरह से चुनावी मोड में आ गया है। पहले चरण के मतदान होने में अब महज 12 दिनों का वक्त बचा है।

ऐसे में आज हम आपको एक ऐसी लोकसभा सीट के बारे में बताएंगे जहां इस बार वोट देने के लिए ईवीएम नहीं बल्कि बैलेट पेपर का इस्तेमाल किया जाएगा।

हम बात कर रहे हैं तेलंगाना की निजामाबाद सीट की। इस बार सीट पर और चुनाव से अलग माहौल है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस सीट पर बैलेट पेपर से वोट डाले जाएंगे।

दरअसल, निजामाबाद लोकसभा सीट पर कुल 185 उम्मीदवार हैं और यही कारण है कि चुनाव आयोग को यहां पर बैलेट पेपर से चुनाव करवाना पड़ रहा है।

क्योंकि अगर यहां पर ईवीएम और वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाए तो हर बूथ पर 3-3 मशीनों का इस्तेमाल करना पड़ेगा। जो बेहद मुश्किल भरा होगा।

यही कारण है कि चुनाव आयोग ने तय किया है कि इस लोकसभा सीट पर बड़े बैलेट पेपर से मतदान हो, ताकि सभी उम्मीदवारों के नाम और तस्वीर आसानी से आ सके।

इसको लेकर चुनाव आयोग ने राज्य चुनाव आयोग को भी अवगत करा दिया और इस पर जरूरी तैयारियां करने को कहा है। आपको बता दें कि तेलंगाना की सभी सीटों पर 11 अप्रैल को ही मतदान होना है।

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी यानी सीईओ के मुताबिक रिटर्निंग अफसर की ओर से फॉर्म 7A के जरिए भेजी जाने वाली उम्मीदवारों की अंतिम सूची आते ही बैलेट पेपर की छपाई का काम शुरू हो जाएगा।

इस बार बैलेट पेपर पर देवनागरी, अंग्रेजी और स्थानीय लिपि में उम्मीदवार के नाम, पार्टी और चुनाव चिन्ह के साथ-साथ पहली बार तस्वीर भी छपी होगी।

नेशनल

मोदी सरकार ने दी केंद्रीय कर्मचारियों को खुशियों की सौगात, पांच दिन पहले मिलेगी सैलरी

Published

on

नई दिल्ली। केंद्रीय कर्मचारियों को सितंबर महीने की सैलरी पांच दिन पहले मिल जाएगी। जी हां आपने बिलकुल सही सुना, वित्त मंत्रालय के जारी आदेश के मुताबिक केंद्र सरकार के सभी विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों के खाते में 25 सितंबर तक इस महीने का वेतन आ जाएगा। आपको बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है कि चालू वित्तीय वर्ष में सरकारी कर्मचारियों के पांच दिन पहले वेतन मिल हो।

इस वजह से पहले मिलेगा वेतन

26 और सितंबर को बैंक की हड़ताल की वजह से वित्त मंत्रालय ने केंद्रीय कर्मचारियों को 5 दिन पहले वेतन देने का आदेश जारी किया है। दरअसल, बैंक यूनियन ने 26 और 27 सितंबर को हड़ताल करने की घोषणा कर दी है।

इसके बाद 28 सितंबर को शनिवार है और 29 सितंबर को रविवार है। 30 सितंबर को बैंकों का क्लोजिंग डे बताया गया है, इस दिन सामान्य कामकाज बंद रहता है।

पहले दो दिन बैंककर्मी हड़ताल पर रहेंगे, तो अगले दो दिन शनिवार और रविवार को छुट्टी रहेगी। केवल 30 तारीख को ही बैंक खुलेंगे, लेकिन उस दिन भी क्लोजिंग डे होने की वजह से सामान्य कामकाज नहीं होगा।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending