Connect with us

प्रादेशिक

UP Board Result 2019: 10वीं और 12वीं के इस दिन आएंगे परीक्षा परिणाम, तय हुई तारीख

Published

on

लखनऊ। यूपी बोर्ड के कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं परिणाम को लेकर बड़ी खबर आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के परीक्षा परिणाम अगले महीने अप्रैल में जारी कर दिए जाएंगे।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के परिणाम 20 अप्रैल तक जारी किए जाने की संभावना है। फिलहाल अभी आंसरशीट चेक किए जा रहे हैं वहीं कई जिलों में मूल्यांकन का काम पूरा हो चुका है।

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने स्कूलों के सभी जिला निरीक्षकों (DIoS) को इस संबंध में एक निर्देश जारी कर दिया है और उन्हें 25 मार्च तक दोनों कक्षाओं की परीक्षाओं की सभी उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन सुनिश्चित कर लेने को कहा है।

आपको बता दें,  यूपी बोर्ड की उत्तर पुस्तिकाओं की मूल्यांकन प्रक्रिया जो 8 मार्च को शुरू हो गई थी, उन्हें 15 दिनों के भीतर 23 मार्च को पूरा किया जाना था, लेकिन दो दिन की होली की छुट्टी के कारण, अब यह तारीख 2 दिन आगे बढ़ा दी गई है।

बोर्ड के रिकॉर्ड के अनुसार, 230 मूल्यांकन केंद्रों पर कुल 3.20 करोड़ उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन किया जा रहा है, जिनमें 10वीं परीक्षा के 1.90 करोड़ उत्तर पुस्तिका 79,064 शिक्षकों द्वारा मूल्यांकन किए जा रहे हैं, और 45,732 शिक्षकों के लिए 12वीं परीक्षाओं की 1.30 करोड़ उत्तर पुस्तिकाएं जांची जा रही हैं।

 

प्रादेशिक

यूपी में अब शनिवार और रविवार रहेगा पूर्ण लॉकडाउन

Published

on

प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए यूपी की योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अब प्रदेश में शनिवार और रविवार को पूर्ण लॉकडाउन रहेगा।
योगी सरकार के इस फैसले के ​मुताबिक उत्तर प्रदेश में कार्यालय और बाजार सोमवार से लेकर शुक्रवार तक खुलेंगे।

शनिवार और रविवार को प्रदेश में पूर्ण लॉकडाउन लागू रहेगा। यानी हर हफ्ते के शुरुआती 5 दिन बाजार और कार्यालय खुले रहेंगे। सप्ताह के आखिरी दो दिन कार्यालय और बाजार खोलने की अनुमति नहीं होगी। यह आदेश सरकारी के साथ ही सभी निजी दफ्तरों और संस्थानों के लिए है।

बताया जा रहा है कि वीकेंड पर लॉकडाउन लगाने का यह फैसला सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई टीम इलेवन की बैठक में लिया गया था. कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए ट्रांसमिशन चेन तोड़ने के लिए यह निर्णय लिया गया.

Continue Reading

Trending