Connect with us

मनोरंजन

नरेंद्र मोदी बायोपिकः इन 3 वजहों से फ्लॉप हो सकती है फिल्म, जानकर सोच में पड़ जाएंगे आप!

Published

on

मुंबई। बुधवार को पीएम मोदी की बायोपिक ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ का ट्रेलर रिलीज कर दिया गया। रिलीज के बाद से हर ओर इस ट्रेलर की चर्चा हो रही है। फिल्म में नरेंद्र मोदी के बचपन से लेकर पीएम बनने तक के सफर को दिखाया गया है। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले रिलीज होने पर एक बड़ा तबका इसे चुनाव में फायदा पहुंचाने वाला बता रहा है।

आज हम आपको पीएम मोदी की बायोपिक की कुछ ऐसी चीजें बताने जा रहे हैं जो देखने में काफी हद तक फिल्मी लगती हैं। मोदी को निर्भीक, निडर राष्ट्रवादी और हीरो के रूप में दिखाने के लिए जिस तरह से घटनाओं का वर्णन किया गया है वह ट्रेलर में प्रभावी लगने की बजाय मजाकिया नजर आता है।

1992 में बीजेपी ने मुरली मनोहर जोशी के नेतृत्व में कश्मीर के लाल चौक में तिरंगा फहराया गया था लेकिन ट्रेलर में जोशी की जगह पीएम मोदी यात्रा की अगुवाई करते नजर आ रहे हैं। ट्रेलर में मोदी के नेतृत्व में लोग लाल चौक पर तिरंगा फहराने जा रहे हैं। मोदी के ग्रुप को सेना के जवान कवर कर रहे हैं। बड़े पैमाने पर गोलियां चल रही हैं। निर्भीक मोदी हैं कि हाथ में तिरंगा लिए बढ़े ही जा रहे हैं।

ठीक इसी तरह आपातकाल की घटना का भी जिक्र ट्रेलर में नजर आता है। मोदी ने आपातकाल के दौरान अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नेता के रूप में उल्लेखनीय कार्य किया था. लेकिन ट्रेलर में इंदिरा के सामने आपातकाल के दौरान मोदी को कुछ इस तरह से गढ़ा गया है कि वे आपातकाल में विपक्ष का नेतृत्व करने वाले बहुत बड़े नेता के तौर पर नजर आते हैं। पीएम नरेंद्र मोदी का निर्देशन बायोपिक मास्टर ओमंग कुमार ने किया है। इससे पहले ओमंग सरबजीत और मैरीकॉम जैसी हिट बायोपिक बना चुके हैं।

मनोरंजन

नेहा कक्कड़ की रोका सेरेमनी की Video हुआ वायरल, आप भी देखिए

Published

on

By

देखें वीडियो…

Continue Reading

Trending