Connect with us

नेशनल

इस शुभ मुहूर्त पर खेलें होली, मिलेगा चमत्कारिक लाभ

Published

on

नई दिल्ली। आज यानी गुरूवार को पूरा देश खुशियों के रंगों से भरा त्योहार होली मना रहा है। आज ही के दिन भगवान विष्णु ने हिरण्यकश्यप नामक महासुर का वध करके उसके पुत्र प्रह्लाद को दर्शन दिए थे।

हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, होली के दिन से नए संवत की शुरुआत होती है। होली केवल रंगों का त्योहार नहीं है बल्कि आपसी भाईचारे का भी प्रतीक है।

आज के दिन सुबह से ही लोग होली खेलना शुरू कर देते हैं लेकिन शुभ मुहूर्त में होली खेलने से आपको कई व्यक्तिगत लाभ मिलेंगे। तो आईए जानते हैं क्या है रंग खेलने का सबसे शुभ मुहूर्त और होली खेलते समय हमें क्या-क्या सावधानियां बरतनी चाहिए।

 

होली खेलने का मुहूर्त-

इस बार होली खेलने का मुहूर्त सुबह 8 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक रहेगा. इस दौरान देशभर में होली खेली जाएगी.

होली पर क्या-क्या सावधानियां बरतें…

– होली के त्योहार को मनमुटाव की भावना से न मनाएं.

– रंगोत्सन मनाते समय छोटे बड़े सभी लोगों की भावनाओं का सम्मान करें.

– किसी के साथ बदले की उम्मीद से होली न मनाएं.

– किसी से वाद विवाद बिल्कुल न करें.

खुशहाली और शांति के लिए-

– एक लोटे में जल लें और उसमें सफेद फूल डालें.

– इसी जल से चंद्रमा को अर्घ्य दें.

– इसके बाद मन की शांति की प्रार्थना करें.

मिलेगा सेहत का वरदान-

– होली की रात सफेद वस्त्र धारण करें.

– हल्‍की सी चंदन या गुलाब की सुगंध लगाएं.

– इसके बाद ऊं सोम सोमाय नम: मंत्र का 108 बार जाप करें.

– इससे आपकी सेहत उत्तम हो जाएगी.

खुशहाल होगा वैवाहिक जीवन-

– होली की शाम केवल चावल चीनी और दूध से खीर बनाएं.

– ये खीर भगवान शिव को अर्पित करें.

– इसके बाद पति-पत्नी एक साथ उस खीर को ग्रहण करें.

– आपके रिश्ते में प्यार की मिठास घुल जाएगी.

करियर में सफलता के लिए-

– होली के दिन हवन करें. हवन सामग्री में काले तिल मिलाएं. फिर नीम की लकड़ी जलाएं.

– अग्नि में हवन सामग्री से अपनी उम्र के बराबर आहुति दें.

– इस उपाय से आपके करियर की सभी रुकावटे दूर हो जाएंगी और आपको सफलता और उन्नति का वरदान मिलेगा.

धन प्राप्ति के उपाय-

– होली के दिन हनुमान जी की विशेष पूजा की जाए तो धन-संपत्ति मिल सकती है.

– होली की रात लाल वस्त्र धारण करें.

– हनुमान जी के सामने घी का दीपक जलाएं.

– उनके सामने हनुमान चालीसा का पाठ करें. आपकी आर्थिक स्थिति सुधर जाएगी.

 

नेशनल

47वें सीजेआई बने जस्टिस शरद अरविंद बोबडे, राष्ट्रपति ने दिलाई शपथ

Published

on

नई दिल्ली। जस्टिस शरद अरविंद बोबडे देश के 47वें चीफ जस्टिस बन गए हैं। सोमवार के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें भारत के प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ दिलवाई।

17 नवंबर को सीजेआई रंजन गोगोई के रिटायर होने के बाद जस्टिस बोबडे ने अगले दिन सीजेआई के रूप में अपना पदभार संभाल लिया। बता दें कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने ही CJI पद के लिए जस्टिस बोबडे के नाम की सिफारिश की थी।

जस्टिस बोबडे का सीजेआई के रूप में 18 महीने का कार्यकाल रहेगा। वह 23 अप्रैल 2021 को रिटायर होंगे। हाल ही में आए अयोध्या के रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद फैसले की सुनवाई करने वाली बेंच में जस्टिस बोबडे भी शामिल थे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending