Connect with us

प्रादेशिक

फोन पर पाकिस्तानी सीरियल देख रही थी पत्नी, गुस्से में पति ने काट दिया नाजुक अंग!

Published

on

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के पुणे शहर से मंगलवार को एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक 40 वर्षीय शख्स ने हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए अपनी पत्नी पर धारदार चाक़ू से हमला किया।

इस हमले में पत्नी के दाएं हाथ का अंगूठा कटकर अलग हो गया। पुणे पुलिस स्टेशन में पीड़िता ने अपने पति के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज करवाया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह दंपति में झगड़ा हुआ था। महिला ने अपने बेटे को एक दुकान से दूध लाने के लिए भेजा था लेकिन जब उसने पाया कि दूध की थैली खराब हो गई है, तो वह उसे डांटने लगी।

उसकी आवाज सुनकर, पति ने बीच बचाव किया, जिससे दंपति के बीच बहस हुई। महिला ने अपनी शिकायत में कहा है, कि जब उसका पति काम से घर आया तो उसने झगड़ा किया और पाया कि वह उससे बात नहीं कर रही है।

जब वह उससे बात करने के लिए बेडरूम में गया, तो वह अपने मोबाइल पर पाकिस्तानी नाटक देख रही थी। इस पर वह आग-बबूला हो गया।

उसे लगा की उसकी पत्नी उसे नजरअंदाज कर रही है और अपने मोबाइल फोन पर शो को अधिक महत्व दे रही हैं, पति से यह बर्दाश्त नहीं हुआ और उसने पत्नी पर चापड़ (चाकू जैसा औजार) से हमला किया, जिसमें उसके दाएं हाथ का अंगूठा कट कर अलग हो गया। इसी बीच महिला का शोर सुनकर पडोसियों ने उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया।

आपको बता दें,आरोपी आसिफ सत्तार नायब सैलिसबरी पार्क इलाके में होर्डिंग्स लगाने का व्यवसाय करता है। नायब को हत्या की कोशिश के मामले में स्वारगेट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

रिपोर्ट-मानसी शुक्ला

 

नेशनल

योगी की सभा में खाली पड़ी रह गईं कुर्सियां, नहीं पहुंचे सुनने वाले

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की एक चुनावी सभा से ऐसी तस्वीर सामने आई है, जिसने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और स्टार प्रचारकों में शुमार हेमा मालिनी की लोकप्रियता पर सवाल खड़े कर दिए हैं। मथुरा की विजय संकल्प सभा में योगी आदित्यनाथ और हेमा मालिनी के एक मंच पर मौजूद रहने के बावजूद भी सभा की अधिकतर कुर्सियां खाली पड़ी रही।

एक वरिष्ठ पत्रकार ने मथुरा की सभा का फ़ोटो को अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है, जहां योगी आदित्यनाथ और हेमा मालिनी की मौजूदगी के बावजूद भी दर्शकों का अभाव रहा। बता दें कि मथुरा की सांसद और भाजपा की स्टार प्रचारक हेमा मालिनी ने सोमवार को लोकसभा चुनाव में मथुरा से अपना नामांकन पत्र भरा। इसके बाद इन दोनों नेता जनसभा को संबोधित करने गए थे।

योगी आदित्यनाथ ने चुनाव आयोग के आदेशों को दिखाया ठेंगा

सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने हेमा के नामंकन के बाद मथुरा में विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए दिखा दिया चुनाव आयोग को ठेंगा। दरअसल फिर से सत्ता पर काबिज होने की जद्दोजहद में माननीय मुख्यमंत्री यह भूल गए कि चुनाव आयोग ने पुलवामा, बालाकोट व सेना से जुड़े मुद्दों को मंच से उठाने व होर्डिंग इत्यादि लगवाकर राजनीत करने पर रोक लगा दी है लेकिन उसके बाद भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए व मौजूदा केंद्र में बैठी बीजेपी की मोदी सरकार की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए इन्ही मुद्दों को मंच से उछाला।

मौका था हेमा के नामांकन के तुरंत बाद भाजपा की विजय संकल्प रैली का इस बाबत जब माननीय मुख्यमंत्री से बात करने का प्रयास किया तब वह कैमरे पर आकर कुछ नही बोले व सभा समाप्ति के तुरंत बाद हेलीपैड को रवाना हो गए जहां पहुंच वह अपने अगले गंतव्य को निकल गए।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending