Connect with us

नेशनल

पुलवामा हमले को यूपी के उप मुख्यमंत्री ने भी बताया था दुर्घटना, वीडियो हुआ वायरल!

Published

on

नई दिल्ली। 14 फरवरी को पुलवामा में हुए CRPF काफिले पर हमले को मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने दुर्घटना करार दिया था। दिग्विजय के इस बयान के बाद उनकी जमकर आलोचना हुई थी।

दिग्विजय के बयान के बाद बीजेपी के तमाम नेताओं सहित पीएम मोदी ने भी निशाना साधा था। दिग्विजय के बाद अब इस लिस्ट में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का नाम भी जुड़ गया है।

हाल ही में बीजेपी नेता का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में केशव पुलवामा आतंकी हमले को दुर्घटना बताते नजर आ रहे है। सोशल मीडिया पर केशव प्रसाद मौर्य का एक वीडियो खुद दिग्विजय सिंह ने री-ट्वीट किया है जिसमें मौर्य आतंकी हमले को जवानों के साथ हुई बड़ी दुर्घटना बता रहे हैं।

वीडियो देखकर समझा जा सकता है कि जब पत्रकारों ने पुलवामा आतंकी हमले में सुरक्षा की चूक से जुड़ा कोई सवाल पूछा तो जवाब देते हुए मौर्य ने कहा कि चूक जैसे शब्द का प्रयोग हरियाणा की धरती के पत्रकारों को नहीं करना चाहिए, मेरी समझ से CRPF जवानों के साथ जो दुर्घटना घटी थी, उस संबंध में प्रधानमंत्री ने अपना संदेश देश के सामने बताया है।

वीडियो में आगे केशव प्रसाद मौर्य कह रहे हैं कि सरकार की ओर से सेना को खुली छूट दी गई है, सेना को कैसी, कब कार्रवाई करनी है यह प्रधानमंत्री पहले ही बोल चुके हैं और इससे ज्यादा बोलने की आवश्कता नहीं है।

साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री के बयान का हवाला देते हुए कहा कि जो आग देशवासियों के दिल में वहीं प्रधानमंत्री के दिल में भी है। केशव प्रसाद के वीडियो के पीछे बीजेपी का एक बैनर लगा है जिसपर 21 फरवरी की तारीख लिखी हुई है।

उनके बयान से साफ है कि यह वीडियो 26 फरवरी को हुई एयर स्ट्राइक से पहले का है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने वीडियो के री-ट्वीट किया है जिसमें लिखा है कि क्या अब केशव प्रसाद मौर्य भी देशद्रोही कहलाएंगे? वीडियो दिग्विजय सिंह के बयान से पहले का है, ऐसा उसमें कही गई बातों से भी नजर आ रहा।

नेशनल

CORONA : तबलीगी जमात के कारण पिछले 24 घंटे में इतना बढ़ गए कोरोना मरीज़

Published

on

By

भारत में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1700 के पार हो गया है। देश में अब तक 53 लोगों की मौत हो चुकी है।  तबलीगी जमात के मरकज के खिलाफ दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मरकज से देर रात भी जमातियों को बसों में भरकर आइसोलेशन में ले जाया गया है। जमात में शामिल 93 लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 10 जमाती बीमारी से दम तोड़ चुके हैं।

Delhi : कोरोना का इलाज करते किसी डॉक्टर की जान गई, तो देंगे 1 करोड़ – सीएम

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 386 नए केस सामने आए हैं। वहीं 38 लोगों की मौत हुई है। वहीं 132 मरीज ठीक हुए हैं। तबलीगी जमात के लोगों के घूमने से मामले बढ़े हैं। तबलीगी जमात से जुड़े 1800 लोगों को अस्पताल और क्वारनटीन सेंटर भेजा गया है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending