Connect with us

मुख्य समाचार

जीएसटी विधेयक शीतकालीन सत्र में पेश होगा

Published

on

नई दिल्ली| केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक पेश करेगी। मंत्री ने यहां सिटी बैंक निवेशक सम्मेलन में यह घोषणा की।

गत सप्ताह जीएसटी पर राज्यों के वित्त मंत्रियों की अधिकार प्राप्त समिति की यहां बैठक हुई थी, जिसमें समिति ने केंद्र के साथ कुछ मुद्दों पर असहमति के बाद भी प्रस्तावित तिथि एक अप्रैल, 2016 से जीएसटी लागू किए जाने की संभावना जताई थी।

केंद्र ने समिति को सुझाव दिया है कि जीएसटी लगाए जाने के लिए कंपनियों का शुरुआती सालाना कारोबार 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 25 लाख रुपये किया जाना चाहिए।

समिति ने अगस्त में इस सीमा को 25 लाख रुपये से घटाकर 10 लाख रुपये किए जाने का फैसला किया था।

माना जा रहा है कि जीएसटी लागू होने से औद्योगिक विकास में तेजी आएगी और देश का कारोबारी माहौल बेहतर होगा।

जीएसटी को कानून बनने के लिए उसे संसद के दोनों सदनों में दो-तिहाई बहुमत से पारित होना होगा और देश के 29 राज्यों में से आधे राज्यों की विधायिकाओं द्वारा दो-तिहाई बहुमत से पारित होना होगा।

Quiet confidence and accuracy with no reaching or inflating make https://essayclick.net for a strong bio

नेशनल

आगरा में ट्रंप की सुरक्षा में लगाए गए लंगूर

Published

on

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आगामी 24-25 फरवरी को भारत दौरे पर हैं। उनके दौरे पर पूरी दुनिया की निगाहे हैं। ट्रंप की सुरक्षा के लिए भारत में सुरक्षा के तगड़े प्रबंध किए गए हैं। जमीन से आसमान तक ट्रंप की सुरक्षा ऐसी है कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता।ट्रंप की सुरक्षा में सीक्रेट सर्विस एजेंट्स, मिलटरी-पैरा मिलिटरी फोर्स तो तैनात रहेंगी ही। साथ ही ड्रोन और हेलीकाप्टर से भी ट्रंप की सुरक्षा पर पैनी निगाह रखी जाएगी। बताया जा रहा है कि ट्रंप अपनी भारत यात्रा के दौरान ताज के भी दीदार करेंगे। हालांकि अभी इसपर संशय बना हुआ है लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार ट्रंप की सुरक्षा के मामले में कोई भी रिस्क नहीं लेना चाहती। इसलिए ताज दर्शन के दौरान लंगूरों को ड्यूटी पर लगाया गया है।

दरअसल, भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के चिंता इलाके में बंदर हैं। जिन्होंने इलाके में काफी उत्पात मचा रखा है, लिहाजा सुरक्षा व्यवस्था में कोई चूक न हो जाए इसके लिए खासतौर पर लंगूरों को भी तैनात किया जा रहा है। इन लंगूरों के पास बंदरों के उत्पात को रोकने का दारोमदार होगा। ऐसे पांच लंगूरों की तैनाती राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के रूट पर की जा रही है।

हालांकि, सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अफसरों को कुछ भी बताने का निर्देश नहीं है लेकिन जो जानकारी सामने आई है उसके अनुसार 10 कंपनी अर्धसैनिक बल, 10 कंपनी पीएसी के साथ एटीएस और एनएसजी के कमांडो को तैनात किया जाएगा। ताजमहल का दीदार करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया का 24 फरवरी को आगरा आने का कार्यक्रम है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending