Connect with us

नेशनल

ATS के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी को धरदबोचा

Published

on

जम्मू-कश्मीर में हुए आतंकी हमले के बाद सुरक्षा एजंसियां एलर्ट हो गई हैं। इसी वजह से उत्तर प्रदेश की एंटी टेररिस्ट स्क्वॉड (ATS) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए देवबंद से 2 आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक पकड़े गए आतंकियों का काम जैश-ए-मोहम्मद के लिए नए आतंकियों की भर्ती कराना था।
2 संदिग्धों की गिरफ्तारी के बाद उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि उनके पास बड़ी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद की गई है। आतंकियों का नाम शाहनवाज अहमद तेली और आकिब अहमद है। दोनों आतंकी देवबंद में बिना एडमिशन के रहते थे और साथ ही .32 बोर की गन भी थी।

इतना ही नहीं दोनों संदिग्धों के पास से जिहादी ऑडियो, वीडियो और लिखित सामग्री भी बरामद हुई है। डीजीपी ने बताया कि जैश आतंकी शाहनवाज अहमद तेली कश्मीर के कुलगाम का रहने वाला है जबकि आकिब अहमद पुलवामा का रहने वाला है।

नेशनल

मुंबई हमले का जख्म भारत भूल नहीं सकता: पीएम मोदी

Published

on

नई दिल्ली। मुंबई में हुए आतंकी हमले की आज 12वीं बरसी है। 26 नवंबर 2008 को समुद्र के रास्ते पाकिस्तान से आए 10 आतंकवादियों ने देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ऐसा खूनी खेल खेला कि 200 के करीब मासूम जिंदगियां मौत के आगोश में समां गईं। पीएम मोदी ने इस दिन को याद करते हुए कहा कि 26/11 मुंबई हमले का जख्म भारत भूल नहीं सकता और आज का भारत नई नीति के साथ आतंकवाद का मुकाबला कर रहा है।

पीएम मोदी ने गुजरात के केवड़िया में 80वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्‍मेलन के समापन सत्र को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि आज की तारीख देश पर सबसे बड़े आतंकी हमले के साथ जुड़ी हुई है। 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोल दिया था। इस हमले में अनेक लोगों की मृत्यु हुई थी। अनेक देशों के लोग मारे गए थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “आज की तारीख, देश पर सबसे बड़े आतंकी हमले के साथ जुड़ी हुई है। 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोल दिया था। इस हमले में अनेक भारतीयों की मृत्यु हुई थी। कई और देशों के लोग मारे गए थे। मैं मुंबई हमले में मारे गए सभी को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मैं आज मुंबई हमले जैसी साजिशों को नाकाम कर रहे, आतंक को एक छोटे से क्षेत्र में समेट देने वाले, भारत की रक्षा में प्रतिपल जुटे हमारे सुरक्षाबलों का भी वंदन करता हूं।

Continue Reading

Trending