Connect with us

नेशनल

राहुल गांधी ने किया पीएम मोदी पर बड़ा हमला कहा-उन्होंने राफेल दिया हम हर खाते में पैसे देंगे

Published

on

नई दिल्ली। बिहार दौरे के बाद  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मिशन 2019 के तहत आज ओडिशा के दौरे पर हैं। यहां कालाहांडी के भवानीपटना में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने केंद्र सरकार और राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पर जमकर हमला बोला।

राहुल ने रैली में मोदी सरकार के अंतरिम बजट निशाना साधते हुए कहा, “मोदी जी ने कहा है  कि देश के किसानों को वो 17 रुपये देंगे। इसे वो एक ऐतिहासिक काम बताते हैं, और जनता दल वाले इस फैसले पर ताली बजाते हैं।” राहुल गाँधी  ने ऐलान किया कि देश के हर गरीब को फिर चाहे वो किसी भी प्रदेश में हो, कांग्रेस पार्टी न्यूनतम आमदनी उसके बैंक खाते में डालकर दिखाएगी।

राहुल ने ये भी कहा कि,” चौकीदार चोर है और नवीन पटनायक एक रिमोट कंट्रोल की तरह काम कर रहे हैं”। BJPऔर BJD मिलकर ओडिशा के लोगों की जमीन रही  है।  राहुल गाँधी ने लोगों के संबोधित करते हुए कहा, ‘कांग्रेस ने ओडिशा को एक स्पेशल जगह दी है और आगे बढ़कर उनकी  मदद भी करेंगे।’

लेकिन केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की नवीन पटनायक की सरकार ने राज्य के गरीबों के लिए कुछ नहीं किया । नरेंद्र मोदी सिर्फ उद्योगपतियों की मदद करते है। कांग्रेस अध्यक्ष बोले कि हमने सबसे बड़ा काम आदिवासी बिल का किया है। हमने जनता का हक़ और उनका पैसा उन्हें वापस दिया है। अब देखना यह होगा कि राजनैतिक दलों की इन चुनावी मुठभेड़ों का आगामी लोकसभा चुनाव पर क्या असर पड़ता है।

 

Edited by: मानसी शुक्ला

नेशनल

नक्शा फाड़े जाने पर हिंदू महासभा ने की राजीव धवन के खिलाफ बार काउंसिल में शिकायत

Published

on

नई दिल्ली। अयोध्या जमीन विवाद केस की सुनवाई के अंतिम दिन कुछ ऐसा हो गया कि मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन सुर्खियों में आ गए।

बुधवार को सुनवाई के 40वें दिन हिंदू महासभा के वकील द्वारा एक नक्शा पेश किए जाने के बाद राजीव धवन ने उसे फाड़ दिया। जिसके बाद हिंदू महासभा ने इसकी शिकायत बार काउंसिल ऑफ इंडिया में की है।

हिंदू महासभा ने बार काउंसिल के सामने मामले का संज्ञान लेते हुए राजीव धवन के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को जब हिंदू महासभा के वकील ने किताब और एक नक्शा पेश किया, तो राजीव धवन भड़क गए थे। उन्होंने तब उस नक्शे को फाड़ दिया और पांच टुकड़े कर दिए।

हालांकि, बाद में जब इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में चर्चा हुई तो राजीव धवन ने कहा कि उन्होंने नक्शा चीफ जस्टिस के कहने पर फाड़ा था।

दरअसल, जब हिंदू महासभा के वकील उस पर्चे को दिखा रहे थे तब राजीव धवन ने वह नक्शा छीन लिया और कहा कि वह इस पर जवाब नहीं देंगे। इस पर चीफ जस्टिस ने उनसे कहा कि आप चाहे तो इसे फाड़ दें, तभी राजीव धवन ने नक्शे को फाड़ दिया।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending