Connect with us

नेशनल

किसानों पर मेहरबान मोदी सरकार, दे रही 7,50,00,00,000,000 रुपए की सौगात

Published

on

पश्चिम बंगाल यानी की ममता बनर्जी के गढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुल कर गरजे। मिशन 2019 का चुनावी बिगुल फूंकते हुए उन्होंने ठाकुर नगर और बर्दवान के दुर्गापुर में रैली को संबोधित किया। इस दौरान ममता बनर्जी की सरकार पीएम के निशाने पर रही।

इसके बाद उन्होंने कहा कि हमारे ही डर से लोकतंत्र का नाटक करने वाले लोग निर्दोष लोगों की हत्या करने में लगे हुए हैं। हमारे प्रति जनका का प्यार ही ममता की नींद उड़ा रखा है।

पीएम मोदी ने कहा कि स्वतंत्र भारत के इतिहास में किसी भी सरकार ने किसानों के लिए पीएम किसान सम्मान निधि योजना जैसी इतनी बड़ी और लाभकारी योजना नहीं लाई है। हम किसानों को हर साल 6000 रुपए देंगे जिससे हर साल 75000 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। इस तरह से 10 साल में हम 7,50,00,00,000,000 रुपये देंगे।

नेशनल

मुंबई हमले का जख्म भारत भूल नहीं सकता: पीएम मोदी

Published

on

नई दिल्ली। मुंबई में हुए आतंकी हमले की आज 12वीं बरसी है। 26 नवंबर 2008 को समुद्र के रास्ते पाकिस्तान से आए 10 आतंकवादियों ने देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ऐसा खूनी खेल खेला कि 200 के करीब मासूम जिंदगियां मौत के आगोश में समां गईं। पीएम मोदी ने इस दिन को याद करते हुए कहा कि 26/11 मुंबई हमले का जख्म भारत भूल नहीं सकता और आज का भारत नई नीति के साथ आतंकवाद का मुकाबला कर रहा है।

पीएम मोदी ने गुजरात के केवड़िया में 80वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्‍मेलन के समापन सत्र को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि आज की तारीख देश पर सबसे बड़े आतंकी हमले के साथ जुड़ी हुई है। 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोल दिया था। इस हमले में अनेक लोगों की मृत्यु हुई थी। अनेक देशों के लोग मारे गए थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “आज की तारीख, देश पर सबसे बड़े आतंकी हमले के साथ जुड़ी हुई है। 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोल दिया था। इस हमले में अनेक भारतीयों की मृत्यु हुई थी। कई और देशों के लोग मारे गए थे। मैं मुंबई हमले में मारे गए सभी को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मैं आज मुंबई हमले जैसी साजिशों को नाकाम कर रहे, आतंक को एक छोटे से क्षेत्र में समेट देने वाले, भारत की रक्षा में प्रतिपल जुटे हमारे सुरक्षाबलों का भी वंदन करता हूं।

Continue Reading

Trending