Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

वैज्ञानिकों का नया कमाल, अब इस तकनीक से चांद के बगल में दिखेंगे विज्ञापन!

Published

on

नई दिल्ली। अभी तक लोग अखबर, टीवी, होर्डिंग में उत्पादों के विज्ञापन देखते थे, लेकिन अब विज्ञापन को चांद-तारों के बीच दिखाने पर काम किया जा रहा है। जी हां, आपने सही सुना विज्ञापन को जल्द ही आसमान में दिखाए जाने की तकनीक पर काम किया जा रहा है।

रूसी स्टार्टअप स्टाररॉकेट कंपनी आसमान में इस तरह के नए प्रयोग कर रही है। कंपनी के मुताबिक जैसे लोग आसमान में चांद को देखते हैं, उसी तरह अब विज्ञापन भी देखे जा सकेंगे।

इसके लिए रॉकेट से छोटे-छोटे सैटेलाइट भेजे जाएंगे, जो धरती के ऊपर 400 किमी की ऊंचाई पर चक्कर लगाएंगे। इन सैटेलाइट को क्यूबसैट कहा जाता है।

यह आकार में काफी छोटे होते हैं। इन विज्ञापनों को धरती पर रहने वाले करोड़ों लोग एक साथ देख सकेंगे। यह दिन में 10 या इससे अधिक बार दिखाई देगा।

स्टाररॉकेट कंपनी के सीईओ के व्लादिन सितनिकोव के मुताबिक सैटेलाइट सूरज की रोशनी से चमकेंगे, जिससे विज्ञापन के शब्द या लोगो की आकृति दिखाई देगी।

उन्होंने अपनी कंपनी के इस प्रोजेक्ट को एलन मस्क और पीटर बेक की योजनाओं के समतुल्य बताया है। कंपनी अपना टेस्ट प्रोजेक्ट 2021 तक लॉन्च करेगी।

इन विज्ञापनों की चमक की बात की जाए तो, यह -8 मैग्निट्यूड के होंगे। जानकारी के लिए बता दें कि पूर्णिमा का चांद -13 और सूरज -27 मैग्निट्यूड की चमक बिखेरता है।

अन्तर्राष्ट्रीय

पाकिस्तान में आर्मी-पुलिस आमने-सामने, गृह युद्ध जैसे हालात

Published

on

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में इस समय गृह युद्ध जैसे हालात बने हुए हैं। यहां इमरान सरकार के खिलाफ पूरा विपक्ष एकजुट है। इमरान के खिलाफ बड़ी-बड़ी सभाएं हो रही हैं। इसी बीच पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के दामाद मोहम्मद सफदर को सेना द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि उन्हें कुछ देर बाद छोड़ दिया गया था। हालांकि सिंध पुलिस को इस बात की जानकारी नहीं थी। साथ ही गिरफ्तारी के दौरान सिंध पुलिस प्रमुख को कहीं घेर लिया गया था।

पाकिस्तानी सेना के इस कृत्य के बाद सिंध पुलिस और पाकिस्तानी सेना आमने सामने है। सिंध पुलिस ने कई बड़े अधिकारियों ने सेना से नाराज होकर छुट्टी पर जाने का फैसला कर लिया है। बता दें कि बीते कल नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने आरोप लगाया था कि उनके होटल के कमरे में घुसकर उनके पति को गिरफ्तार कर ले जाया गया। हालांकि बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। इसके बाद बैकफुट पर आए पाकिस्तानी आर्मी चीफ बाजवा ने आदेश दिया है कि आखिर यह गिरफ्तारी क्यों की गई इसकी जांच की जाए। लेकिन मामला यहीं तक नहीं थमा है। इसके बाद पाकिस्तान के सिंध प्रांत की पुलिस और पाकिस्तानी सेना और आईएसआई के बीच अब विवाद शुरू हो चुका है।

सिंध पुलिस का इस मामले पर कहना है कि सफदर को उनकी जानकारी के बगैर गिरफ्तार किया गया था। उसकी गिरफ्तारी के दौरान सिंध पुलिस प्रमुख को कहीं घेर लिया गया था। इसके बाद पाक सेना ने ही सफदर को गिरफ्तार किया था। बता दें कि पुलिस की सेना से नाराजगी के बाद पुलिस अधिकारी व पुलिस कर्मचारी छुट्टी पर जाने लगे हैं. सिंध पुलिस के आईजी ने भी छुट्टी पर जाने का ऐलान किया। साथ ही हजारों पुलिस कर्मचारी भी छुट्टी पर चले गए हैं।

Continue Reading

Trending