Connect with us

नेशनल

मायावती-राहुल के पीएम बनने का सपना हो सकता है चकनाचूर, यह नेता है रेस में सबसे आगे!

Published

on

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अब कुछ ही समय बचा है। सूत्रों के मुताबिक मार्च में आम चुनाव की तारीखों की घोषणा हो सकती है। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को कड़ी टक्कर देने के लिए विपक्ष एकजुट होना शुरू हो गया है।

इसी कड़ी में आज यानि शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी विपक्ष की ताकत दिखाने के लिए महारैली का आयोजन कर रही हैं।

ममता की पार्टी तृणमूल कांग्रेस का दावा है कि यह अब तक की सबसे बड़ी महारैली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ममता की इस महारैली में 11:30 बजे तक 20 विपक्षी दलों के नेता पहुंच चुके हैं।

विपक्ष द्वारा महारैली में 8 लाख लोगों के पहुंचने का दावा किया जा रहा है। ममता की इस महारैली के बाद एक बार फिर से यह सवाल उठने शुरू हो गए हैं कि आखिर विपक्ष के प्रधानमंत्री का उम्मीदवार कौन होगा।

जहां एक ओर यूपी में अखिलेश और मायावती के गठबंधन के बाद मायावती प्रधानमंत्री पद के लिए अपनी दावेदारी ठोंक रही हैं वहीं अब इस महारैली से ममता बनर्जी की पीएम पद की दावेदारी मजबूत हुई है।

ममता की इस महारैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तो नहीं पहुंचे लेकिन उन्होंने ममता को पत्र लिखकर उन्हें समर्थन दिया है। वहीं मायावती ने इस महारैली से खुद को दूर रखा है।

मायावती और ममता की अपनी-अपनी दावेदारी के बीच एक बात तो तय है कि इससे सबसे ज्यादा नुकसान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को होता दिख रहा है।

अगर ममता तमाम विपक्षी दलों को अपने पाले में करने में कामयाब रहीं तो राहुल के पीएम बनने के सपने को तगड़ा झटका लग सकता है।

 

 

 

नेशनल

डीके शिवकुमार को मिली बड़ी राहत, दिल्ली हाई कोर्ट ने सशर्त दी जमानत

Published

on

नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार को बड़ी राहत देते हुए बुधवार को जमानत दे दी।

उच्च न्यायालय की ओर से यह जमानत सशर्त दी गई है। उनके 25 लाख रुपये के दो मुचलकों पर जमानत मिली है। हाई कोर्ट ने डीके शिवकुमार को बिना अनुमति देश के बाहर जाने पर रोक लगा दी है।

इसके साथ ही कोर्ट ने डीके शिवकुमार को जांच में सहयोग करने का आदेश दिया है। आपको बता दें कि शिवकुमार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने तीन सितंबर को गिरफ्तार किया था।

आज ही यानी बुधवार को ही कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उनसे तिहाड़ जेल जाकर मुलाकात की थी। इस दौरान उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल भी मौजूद थे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending