Connect with us

नेशनल

चंद्रग्रहण 2019: इन तीन राशियों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है ग्रहण, बचाव के लिए करें ये उपाय

Published

on

नई दिल्ली। 21 जनवरी को इस साल का पहला चंद्रग्रहण लगने वाला है। आज हम आपको ऐसी तीन राशियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें खासतौर पर सावधान रहने की जरुर है। आईए जानते हैं कौन सी हैं वो राशियां जिन पर इस चंद्रग्रहण बुरा असर पड़ सकता है।

वृष- संपर्क संचार बेहतर होगा. बंधुजनों से बनाकर रखें. अनावश्यक जोखिम से बचें. अफवाहों या सुनी सुनाई बातों की अनदेखी करें. भाग्य की अपेक्षा कर्म पर भरोसा बढ़ेगा. चांदी धारण करें और प्रयोग में लाएं. स्मार्ट वर्किंग पर जोर दें. वात रोगों में सावधानी रखें. अतिशीत और गर्म से बचाव रखें. डेयरी प्रॉडक्ट, घी एवं वस्त्रादि का दान करें।

मिथुन- खानपान का अतिरिक्त ध्यान रखें. जीवनचर्या संतुलित रखें. देर रात तक न जागें. शुभ कार्यों से जुड़ने के अवसर बढ़ेंगे. अच्छे होस्ट या गेस्ट बने रहेंगे. हरी वस्तुओं का दान करें. वाणी व्यवहार में विनम्रता रखें. पाचन विकार एवं रक्त संबंधी रोग उभर सकते हैं. सबके सहयोग से कार्य बनेंगे. कुटुम्बियों की सुध लेते रहें।

कर्क- सहजता सहयोग सामंजस्य सरलता रखें. मनोबल से जीत होगी. ध्यान एवं भजन से जुड़ें। आस्था और विश्वास से अवरोध कम होंगे। साझा प्रयासों में सावधानी बढ़ाएं. मस्तिष्क एवं स्नायु विकारों के उभरने की आशंका है। ठंडे जल के सेवन से बचें. स्वर्णाभूषणों का प्रयोग बढ़ाएं. घी मौसमीफल आदि का दान करें।

नेशनल

सियाचिन में हिमस्खलन से 4 जवान शहीद

Published

on

नई दिल्ली। दुनिया के सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र सियाचिन ग्लेशियर में भारतीय सेना के एक प्रेट्रोलिंग टीम के तूफान में फंसने के कारण 4 जवान शहीद हो गए हैं। सियाचिन ग्लेशियर से यह दिल दहलाने वाली घटना से सेना के परिवार समेत देश में सभी आहत है।

ये सभी जवान बर्फीले तूफान में फंस गए उस समय जब 8 सदस्यीय टीम प्रेट्रोलिंग कर रही थी। यह घटना आज तड़के 3.30 बजे की है। इसके अलावा इस बर्फीली तूफान ने 2 नागरिकों की भी मौत हो गई है।

18,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित सियाचीन ग्लेशियर में भारतीय जवान अपनी जान की परवाह किए बिना दिन-रात तैनात रहते हैं। इस क्षेत्र में हिमस्खलन की घटना होती रहती है।

एक बर्फीले तूफान की चपेट में आने के बाद रेस्क्यू टीम तुरंत हरकत में आई। सभी जवानों को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया। जहां 4 जवानों ने इलाज के दौरान ही दम तोड़ दिया। अन्य 7 लोगों को बचाने के लिये डॉक्टर्स की टीम लगातार गहन चिकित्सा कर रही है। लेकिन सभी का हालात गंभीर बताई जा रही है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending