Connect with us

IANS News

बिहार : किशोरी हत्या मामले की सीबीआई जांच की मांग

Published

on

पटना, 11 जनवरी (आईएएनएस)| भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा)-माले और अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन (एपवा) ने बिहार के गया जिले के बुनियादंज थाना क्षेत्र में हुई एक किशोरी की हत्या की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच कराने की मांग की है। भागपा (माले) और एवपा ने मानपुर के पटवाटोली का दौरा करने के बाद शुक्रवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस मामले में गया पुलिस की भूमिका संदेह के घेरे में है।

एपवा की राज्य सचिव शशि यादव ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग करते हुए कहा, “भाकपा (माले) और एपवा पुलिस ज्यादती के खिलाफ 16 जनवरी को गया जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन करेगी।”

दोनों संगठनों ने लापरवाही करने वाले पुलिसकर्मियों पर भी कड़ी कार्रवाई करने तथा मृतक के परिजनों को नौकरी व मुआवजा देने की भी सरकार से मांग की है।

किशोरी की हत्या से संबंधित चिकित्सा जांच रपट को पुलिस द्वारा दबाए जाने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि मृतका के पिता सहित उसके ही घर से छोटे बच्चों को भी पुलिस अपराधियों की तरह थाने ले गई।

उन्होंने पुलिस पर ‘ऑनर किलिंग’ बताने को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि यह मामला कहीं से ‘ऑनर किलिंग’ का नहीं लगता है।

इस दौरान एपवा की रीता वर्णवाल एवं भाकपा (माले) राज्य समिति के सदस्य रामबली यादव भी मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि पटवाटोली की 16 वर्षीय किशोरी 28 दिसंबर से लापता थी और छह जनवरी को उसका शव बरामद किया गया। किशोरी की निर्मम तरीके से हत्या के बाद उसके शव को फेंक दिया गया था।

किशोरी के परिजन जहां इस मामले को सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या की बात कह रहे हैं, वहीं पुलिस इसे इज्जत के कारण हत्या (ऑनर किलिंग) का मामला बताते हुए मृतका के पिता सहित तीन लोगों को हिरासत में ले चुकी है।

 

Continue Reading

IANS News

जेल में शशिकला के लिए विशेष सुविधा : रिपोर्ट

Published

on

 बेंगलुरू, 20 जनवरी (आईएएनएस)| भ्रष्टाचार के मामले में सजा काट रही अन्नाद्रमुक नेता वी.के. शशिकला को बेंगलुरू के केंद्रीय कारा में उनकी पंसद की सुविधाएं दी जा रही हैं।

  इस बात का खुलासा एक जांच रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार, शशिकला को खासतौर से तैयार भोजन और विशेष सेल की सुविधा दी जाती है।

सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी विनय कुमार की अध्यक्षता वाली समिति की जांच रिपोर्ट में कहा गया कि साक्ष्यों से स्पष्ट संकेत मिला है कि शशिकला को उपलब्ध कराए गए पांच सेलों में भोजन तैयार करने के कुछ कार्यकलाप चलते हैं।

रिपोर्ट हालांकि कर्नाटक सरकार को कथित तौर पर वर्ष 2017 में सौंपी गई थी, लेकिन इसे सार्वजनिक अब किया गया है।

कर्नाटक की महिला आईपीएस अधिकारी डी. रूपा मुदगिल ने 2017 में एक रिपोर्ट में सबसे पहले इस बात का खुलासा किया था। वह उस समय पुलिस महानिदेश (कारा) थीं।

मुदगिल ने आईएएनएस को यहां बताया, “मेरी रिपोर्ट सरकार द्वारा स्वीकार नहीं की गई और मेरा तबादला कर दिया गया। विनय कुमार की अध्यक्ष वाली समिति की जांच रिपोर्ट मेरी रिपोर्ट के अनुरूप है।”

शशिकला को भ्रष्टाचार के एक मामले में बेंगलुरू की एक निचली अदातल द्वारा 2015 अभियुक्त करार देने के फैसले को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा बरकरार रखे जाने के बाद फरवरी 2017 से वह चार साल की सजा काट रही हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending